मंदसौर जिले में पर्यटकों के लिए मिनी गोवा से लेकर एलवी महादेव सहित संजीत में बनाए जा रहे हैं जल मार्ग पर टापू , 70 किमी के रुट पर चलेंगे स्टीमर

 



मंदसौर और नीमच जिले में जल मार्ग को बढ़ावा देने के लिए पयर्टन केंद्र विकसित किए जा रहे हैं जिस पर टापू बनाए जा रहे हैं जिससे आसानी से पटाखे के स्थान से दूसरे स्थान पर आ जा सकेंगे और लंबी दूरी का मार्ग कम समय में तय कर सकेंगे उसके साथ ही जलमार्ग का आनंद भी उठा सकें यह जल मार्ग लगभग 70 किलोमीटर लंबा बताया जा रहा है जिसमें यात्री गांधी सागर से लेकर मिनी गोवा तक ओर संजीत से लेकर एलवी महादेव तक यात्रा कर सकेंगे ।


आइए जानते हैं इस प्रोजेक्ट में क्या क्या प्लान होगा ।


इस प्रोजेक्ट के अंतर्गत मिनी गोवा कंवला, सुजानपुरा भानपुरा और गांधी सागर, शंकु द्वार जो गरोठ और रामपुरा में, पुरानी लोटवास रामपुरा में संजीत , महादेव बालोदा और गरोठ आदि जगहों पर टापू बनाए जाएंगे जहां पर जल मार्ग में स्टैमर की सहायता से आवाजाही का मार्ग आसानी से किया जाएगा । कार्य का देखा  रेख कर  रही   इंजीनियर  स्वाति कसोट द्वारा बताया गया कि  यह ब्रिच तीस हजार स्क्वायर फीट तक फैला हुआ है टापू को स्थाई रूप से बनाने के लिए पत्थर लगाए जाएंगे ताकि पानी के बहावव में कटे नहीं ओर टापू तक पहुंचने के लिए सड़कों का निर्माण भी किया जाएगा । यह आवाजाही का मार्ग भी कम करेगा और पर्यटकों के लिए आकर्षण का केंद्र भी बनेगा ।

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां