सेना में भर्ती होने के लिए अपना रहे थे हथकंडा, कई अभ्यर्थी समेत दलाल गिरफ़्तार




उत्तर प्रदेश में चल रही भर्ती रैली में लगातार फर्जी दस्तावेजों के सहारे आने वाले अभ्यर्थियों की धरपकड़ की जा रही है। लेकिन इस योजना से भी नहीं डरकर यूपी में फर्जी भर्तियां की जा रही है। इसमें लोगों से पैसे लेकर फर्जी दस्तावेज बनाकर सेना में भर्ती करवा दी जाती है।मामला यूपी के आगरा का है जहां पर सेना में चल रही भर्ती में 25 अभ्यर्थी रडार पर आ गए हैं। इन सभी 25 अभ्यर्थियों के पास से फर्जी दस्तावेज पाए जाने का शक लगाया जा रहा है।अंदाजा लगाया जा रहा है कि इन सभी के पास फर्जी दस्तावेज है और इस मामले की जांच सेना कर रही है। सेना इन सभी अभ्यर्थियों की दस्तावेजों की जांच कर रही है। सभी अभ्यर्थी फर्जी दस्तावेज लेकर डॉक्यूमेंट की मदद से सेना में भर्ती होने के लिए आए थे।


सभी अभ्यर्थियों के दस्तावेजों की जांच की जाएगी


सेना द्वारा सभी अभ्यर्थियों पर शक जताया जा रहा है की सभी अपने अपने दस्तावेज फर्जी बनवाकर डॉक्यूमेंट के सहारे सेना में भर्ती होना चाहते थे लेकिन अब सेना में शामिल होने आए 25 अभ्यर्थी को शक के दायरे में लिया गया है। यहां अभ्यर्थी सेना के द्वारा फिजिकल और दो मेडिकल के दौरान शक के दायरे में आए हैं।मामले की जांच सेना द्वारा की जा रही है और सभी के दस्तावेजों को जांचा जा रहा है। आपको बता दें कि बुधवार को गबाना के अभ्यर्थियों के लिए सेना भर्ती चल रही थी इसमें मिली जानकारी के अनुसार सेना द्वारा जब इन का फिजिकल टेस्ट लिया गया तो इस दौरान 23 अभ्यर्थियों के दस्तावेज पर सेना को शक हुआ।इसी तरह जब 2 अभ्यर्थियों का मेडिकल लिया गया तो उनके दस्तावेजों में भी सेना को शक हुआ। यानी कुल मिलाकर 25 अभ्यर्थियों पर फर्जी दस्तावेजों का शक जताया जा रहा है। सभी के दस्तावेजों की फिर से जांच की जा रही है हालांकि पुलिस ने फिलहाल इसकी पुष्टि नहीं की है। लेकिन जल्द ही मामले को सुलझाया जाएगा और जिसने भी यह लापरवाही की है उचित सजा भी दी जाएगी।


 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Popular Posts

चुन्नु लाला पहुंचा मंदसौर: उदयपुर पुलिस गैंगस्टर को लेकर पहुंची मंदसौर, कोर्ट ने दिया 6 दिन का रिमांड, उदयपुर और मंदसौर पुलिस की कड़ी सुरक्षा में पेशी
राहत की किरण: मंदसौर में सामूहिक दुष्कर्म के 5 आरोपियों को मौत तक कैद की सजा, नाबालिग छात्रा को खेत में ले जाकर किया था दुष्कर्म
एक और गड़बड़ी: सिर्फ 6 माह 13 दिन में धंसा 28 करोड़ के शामगढ़ ओवरब्रिज का एप्रोच रोड, रास्ता हुआ बंद, सेतु विकास के इंजीनियर और निगरानी कंपनी की देखरेख में बना ब्रिज
मंदसौर: पिपल्या मंडी थाना क्षेत्र में जहरीली शराब पीने से तीन लोगों की मौत, किराने की दुकान पर बेची जा रही थी जहरीली शराब, मौके पर पहुंचा प्रशासन
मंदसौर: शहर के मुक्तिधाम में राख और अस्थियों के साथ हो रही छेड़छाड़, कुछ असामाजिक तत्वों ने शमशान को बना दिया है शराब का अड्डा