कुत्तों की भरमार, एक माह में 216 लोगों को बनाया शिकार, पिछले करीब 8 माह से नहीं चला कुत्ता पकड़ो अभियान




नीमच शहर में इन दिनों कुत्तों की भरमार हो गई है। शहर के गली मोहल्लों व मुख्य मार्गों पर बड़ी बड़ी संख्या में कुत्ते घूमते रहते हैं।इन कुत्तों ने एक माह में करीब 216 लोगों को अपना शिकार बना लिया है। इसके बावजूद 9 माह में एक बार भी नगर पालिका द्वारा कुत्ते को पकड़ने के लिए अभियान नहीं चलाया गया है। इन कुत्तों के वाहनों के आगे आ जाने से प्रतिदिन शहर में दुर्घटनाएं हो रही है। कई दोपहिया चालक तो दुर्घटनाग्रस्त होकर अस्पताल तक पहुंच जाते हैं। इन कुत्तों की बढ़ती तादाद से शहरवासियों में भय का माहौल पैदा हो रहा है।


अभी तक नहीं चलाया गया है कुत्ता पकड़ो अभियान


कुत्तों का इतना भय बढ़ जाने के बाद भी नगर पालिका द्वारा 18 मई 2020 से ही शहर में कुत्ता पकड़ा अभियान नहीं चलाया गया है। इसके कारण शहर में कुत्तों की भरमार हो गई है। शहर के गली मोहल्लों और मुख्य मार्गों पर इन कुत्तों के झुंड हर समय देखे जा सकते हैं। इनमें से कई कुत्ते तो आक्रामक होकर लोगों पर झपट भी रहे हैं तो कुछ कुत्ते दो पहिया वाहनों के पीछे काटने के लिए भी दौड़ रहे हैं। इसके कारण आए दिन शहर में घटना हो रही है और आम लोग घायल हो रहे हैं। आवारा कुत्तों ने एक माह में 216 लोगों को अपना शिकार बना लिया है। इसके पूर्व दिसंबर माह में 124 लोगों को अपना शिकार बना चुके हैं।शहर में लगातार डांग बाइट के मामले बढ़ते जा रहे हैं।


कुत्ते बच्चों व बुजुर्गों को अपना शिकार बना रहे हैं



कुत्ते बच्चों बुजुर्गों को अपना सबसे ज्यादा शिकार बना रहे हैं। नगर पालिका के पास भी कई शिकायतें कुत्तों के संबंध में पेंडिंग पर पड़ी है। लेकिन इनका निराकरण नहीं हो पा रहा है। इससे लोगों में आक्रोश की भावना आ रही है। एडवोकेट एवं पशुपालन अधिकारी प्रवीण मित्तल ने नपा कर्मचारियों द्वारा कुत्ते पकड़ने का वीडियो बनाकर कलेक्टर को शिकायत की थी। वहीं इस मामले को संगठन के माध्यम से ऊपर तक उठाया था। इस पर पशुपालन विभाग मध्य प्रदेश शासन के अपर मुख्य सचिव जेएन कंसोटीया ने 21 मई को नापा को पत्र लिख नियमों का हवाला देते हुए कुत्ते पकड़ने के संदर्भ में आदेश जारी कर सख्ति से पालन करने को कहा।


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Popular Posts

चुन्नु लाला पहुंचा मंदसौर: उदयपुर पुलिस गैंगस्टर को लेकर पहुंची मंदसौर, कोर्ट ने दिया 6 दिन का रिमांड, उदयपुर और मंदसौर पुलिस की कड़ी सुरक्षा में पेशी
राहत की किरण: मंदसौर में सामूहिक दुष्कर्म के 5 आरोपियों को मौत तक कैद की सजा, नाबालिग छात्रा को खेत में ले जाकर किया था दुष्कर्म
एक और गड़बड़ी: सिर्फ 6 माह 13 दिन में धंसा 28 करोड़ के शामगढ़ ओवरब्रिज का एप्रोच रोड, रास्ता हुआ बंद, सेतु विकास के इंजीनियर और निगरानी कंपनी की देखरेख में बना ब्रिज
मंदसौर: पिपल्या मंडी थाना क्षेत्र में जहरीली शराब पीने से तीन लोगों की मौत, किराने की दुकान पर बेची जा रही थी जहरीली शराब, मौके पर पहुंचा प्रशासन
जहरीली शराब से एक और मौत, राजस्थान से आ रही थी मंदसौर में जहरीली शराब, पुलिस ने कार्यवाही कर किया बड़ा खुलासा