उत्तराखंड में बीएससी एग्रीकल्चर (कृषि) की छात्रा रचने जा रही है इतिहास आज बनेगी 1 दिन के लिए उत्तराखंड कि मुख्यमंत्री ।

देश में पहली बार उत्तराखंड में रचने जा रहा है इतिहास, बालिका दिवस के उपलक्ष में एक दिन के लिए सृष्टि गोस्वामी को बनाया जा रहा है मुख्यमंत्री।



आज राष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर उत्तराखंड के मुख्यमंत्री श्री विपिन रावत जी ने एक अनोखी पहल की शुरुआत की है जिसमें हरिद्वार के दौलतपुर की रहने वाली सृष्टि गोस्वामी जो रूढ़ि से प्रयोगशाला एग्रीकल्चर (कृषि) की छात्रा उन्हें 24 जनवरी के दिन एक दिन की मुख्यमंत्री बनाया जा रहा है।

सृष्टि गोस्वामी जो 1 दिन के लिए उत्तराखंड के मुख्यमंत्री बनने जा रही है के पिता प्रवीण पुरी गोस्वामी एक चरित्र ने कहा है कि उनकी पुत्री रुड़की से लेकर एग्रीकल्चर सेमेस्टर सात की छात्रा है। इससे पूर्व भी बालिका आंतरिक स्तर पर कई कार्यक्रमों में भाग ले चुके है उन्होंने कई अवार्ड और मेंडल भी जीते हैं 2019 में सृष्टि को थाईलैंड में भारत की ओर से प्रतिनिधित्व करने का मौका मिला था। गोस्वामी समाज का नाम बुलंदियों पर ले जाने वाली इस बालिका के गांव में हर्ष का माहौल है। साथ ही माता-पिता को कई बधाइयों के संदेश भी आते हैं। 
जो वहाँ 24 जनवरी के दिन उत्तराखंड कि 1 दिन के लिए मुख्यमंत्री बनने जा रहा है जो एक इतिहास भी रचा होगा इस तरह पहले बॉलीवुड की मूरीयो में देखा जाता था जो अब सच हो रहा है।

कई दिनों से बालिका दिवस के उपलक्ष्य में ऐसी चर्चा चल रही थी कि किसी एक दिन के लिए मुख्यमंत्री बनाया जाए जिसके पश्चात उत्तराखंड के मुख्यमंत्री श्री विपिन रावत जी ने एक नाम पर मुहिम लगा दी और उसने नाम सृष्टि गोस्वामी का है। सृजन गोस्वामी आज उत्तराखंड की कुर्सी संभालेगी और कई विकास कार्यों के बारे में समीक्षा भी लेगी और कई अधिकारियों को भी उन्हे प्रजेंटेशन करेंगे की कितनी विकास कार्यों में अब तक प्रगति हुई है और किन कार्यों में आगे कार्य जारी है आदि के बारे में अधिकार उन्हें जानकारी देंगे। ।

देश की इतिहास में ऐसा पहली बार होने जा रहा है कि कोई मुख्यमंत्री पद पर 1 दिन के लिए मुख्यमंत्री बनने जा रहा है। और किसी मुख्यमंत्री के होते हुए किसी और को इसकी कमान दी जा रही है। ऐसा पहले बॉलीवुड की फिल्मों में देखा गया था लेकिन आज वह सच होने जा रहा है जो गौरव की बात है।

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां