शिवराज सिंह चौहान ने दिए निर्देश प्रत्येक जिले कि अलग-अलग विकास योजना बनाई जाए । साथ ही 1 अप्रैल सभी से योजनाएं शुरू की जाए ।

 मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान काला  बाजी करने वालों और मिलावटखोरों के प्रति सख्त कार्यवाही करते हुए नजर आ रहे हैं । कल उन्होंने वर्चुअल मीटिंग में सभी अधिकारियों को विकास योजना लागू करने के संबंध में निर्देश दिए हैं ।



मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कल वीडियो कांफ्रेंस के जरिए जिले के सभी कलेक्टर्स, और कमिश्नर को प्रथम वर्चुअल मीटिंग में कहा कि मध्यप्रदेश में तस्करी ,गुंडागर्दी ,नक्सलवाद आदि पर जल्द ही समाप्ति के तत्कालीन प्रयास हो एवं देश के प्रधानमंत्री द्वारा जो योजनाएं लागू की गई है उनमें प्रदेश अव्वल हो ऐसे प्रयास किए जाए । मध्य प्रदेश अच्छे कार्यों के लिए जाना जाए ऐसे प्रयास किए जाएं ।


मुख्यमंत्री के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस में प्रदेश के मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस एवं अन्य प्रदेश भर के अधिकारी उपस्थित थे । जिला विकास परियोजना जल्द ही शुरू की जाए जिसमें समस्त ग्राम पंचायतों की योजना भी शामिल की जाए । योजनाओं में आधुनिक तकनीकी, बेहतर कार्य , जनता को समय पर सहायता देना एवंयोजनाओं का लाभ प्रत्येक नागरिक को दिलाना , सुव्यवस्थित कानून व्यवस्था, माफियाओं एवं गुंडागर्दी पर प्रतिबंध आदि जल्द से जल्द लागू किया जाए । और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की योजनाओं को मध्य प्रदेश को सभी योजनाओं में नंबर वन बनाया जाए । 

कोरोनावायरस को लेकर भी शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि सबसे पहले प्राथमिकता वाले समूह को टीका लगाया जाएंगे वह अभी टीका नहीं लगाएंगे क्योंकि सबसे पहले इसका लाभ स्वास्थ्य कर्मियों को होना चाहिए । साथ ही कहा कि सभी जिलों में इसके रखरखाव की उचित व्यवस्था की जाए । एवं कलेक्टर द्वारा कार्यों का समय-समय पर निरीक्षण भी किया जाए ।


एवं निर्देश दिए कि कलेक्टर एवं कमिश्नर और अधिकारियों को उचित समय पर योजनाओं का निरीक्षण करना है वह समय से पूर्व ही योजनाओं का जनता को लाभ हो सके इसे प्रयास करना है । 1 अप्रैल से सभी योजनाएं लागू होनी चाहिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि जिले और विभागों की भी रेटिंग होनी चाहिए कौन कितना काम कर रहा है ।


मुख्यमंत्री ने कहा कि मिलावटी के प्रति भी कार्यवाही हो साथ ही प्रशासन द्वारा की गई कार्यवाही का मुख्यमंत्री ने तारीफ करते हुए कहा कि यह ऐसे ही आगे भी जारी रहना चाहिए । साथ ही जो जिले पिछड़े हुए हैं उन पर अधिक ध्यान देने को कहा है । खाद्यान्न को समय पर नहीं बांटना भी पाप है । गरीबों के हक का खाना छिनने वालों के पति जरूरी कार्यवाही हो ऐसे प्रयास किए जाने चाहिए। ऐसे अपराधियों को बक्सा नहीं जाना चाहिए।


टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां

Popular Posts

मन्दसौर:अफीम किसानों के लिए बहुत ही बुरी खबर, अफीम की खेती निजी कंपनियों के हाथ में जा रही है।
मल्हारगढ़ 1.5 क्विंटल डोडाचूरा के साथ 1 आरोपी गिरफ्तार, एक दंपत्ति के घर पुलिस ने दी दबिश
5 साल बाद तक बनकर तैयार हुआ सीतामऊ फाटक और ओवरब्रिज, आज से शुरू होगा। 3 किलोमीटर का चक्कर बचेगा, लगभग 80हजार लोगों को मिल सकेगी राहत‌।
मंदसौर: फिलहाल मध्यप्रदेश में नहीं होगा टोटल लॉकडाउन,सीएम शिवराज सिंह का बड़ा ऐलान
मंदसौर के तालाब में डूबे ग्यारहवीं के 3 छात्र,होली खेलने के बाद तालाब मे तीन दोस्त नहाने के लिए गए थे, दो के शव मिले ,जबकि एक को बचा लिया गया।