पिकअप में 1 लाख 60 हजार कीमती भैंस व पाड़ी को चोरी कर ले जाते हुए 3 आरोपी गिरफ्तार, गांधीसागर पुलिस की सफलता

 


गांधीसागर पुलिस ने एक भैंस व पाड़ी चोरी के मामले में पिकअप सहित तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है। ASI मांगीलाल राठौर ने कहा कि जिला पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ चौधरी, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक महेन्द्र तारणेकर के निर्देशन व थाना प्रभारी रुपसिंह बैस के मार्गदर्शन में पुलिस ने सफलता पाई। ASI मांगीलाल राठौर ने बताया कि 10 जनवरी को प्रेमपुरिया निवासी सत्यनारायण पिता बगदीराम गुर्जर ने गांधीसागर थाने पर शिकायत दर्ज कराई। 


किस प्रकार से उनकी भैंसें चोरी हुई


 सत्यनारायण पिता बगदीराम ने बताया कि उनकी भैंसे धामनिया के पास जंगल में चर रही थी। रोज तो शाम को भैंसे रोज घर पर आ जाती है लेकिन आज  एक भैंस व पाड़ी भी घर नही आई, जिन्हें काफी तलाशा लेकिन कही नही मिली। भैंस व पाड़ी की कीमत काफी ज्यादा है। जिनकी कीमत ₹160000 की है। पुलिस ने धारा 379 में चोरी का मामला दर्ज कर जांच शुरु कर दी। इस दौरान मंगलवार को मुखबिर से सूचना के आधार पर ASI राठौर, प्रधान आरक्षक दिनेश खिंचावत, आरक्षक बहादूरसिंह, अनिल, धनराज ने साइबर सेल की मदद से चतुर्भुज नाला, राक पेटिंग, फारेस्ट चैकी के सामने नाकाबंदी की व पिकअप (एमपी 14 जीबी 0609) को रोका, जिसमें चोरी गई भैंस व पाड़ी को बंद कर रखा था।

 

पुलिस ने पिकअप और आरोपियों को जब्त किया है


 पुलिस ने पिकअप व भैंस जब्त में ली और उसमें सवार पण्डेरिया डेरा (शामगढ़) निवासी प्रकाश (36) पिता बंशीलाल बंजारा, अमानपुरा (सोयत, आगर)  निवासी विष्णुप्रसाद (35) पिता बापूलाल डांगी व खिमला (रामपुरा) निवासी महेन्द्र उर्फ मल्लीधर (25) पिता श्यामलाल बंजारा को गिरफ्तार किया है। ASI राठौर ने बताया कि आरोपियों से पूछताछ जारी है। आरोपियों से यह भी पूछा जा रहा है कि जानवरों को कहां पर ले जा रहे थे।


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Popular Posts