मध्यप्रदेश छात्रों के लिए खुश खबर 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाएं दो बार देने का मिलेगा सुनहरा मौका छात्र अपनी मर्जी से किसी भी पहली या दूसरी परीक्षा में शामिल हो सकेंगे ।

 



मध्य प्रदेश शिक्षा मंडल भोपाल द्वारा यह निर्णय लिया गया कि अब 10वीं और12वीं की बोर्ड परीक्षाएं दो बार आयोजित कराई जाएगी  । जिसमें छात्र अपनी इच्छा के अनुसार किसी भी एक परीक्षा में शामिल हो सकते हैं । लेकिन जो छात्र दूसरी बार परीक्षा में आयोजित होना चाहते हैं उन्हें एक अलग से आवेदन देना पड़ेगा । 


कब कराई जाएगी मध्य प्रदेश की दोनों बोर्ड परीक्षाएं 


शिक्षा मंत्रालय ने निर्णय लिया कि पहली पारी की परीक्षा  30 अप्रैल से 15 मई के बीच आयोजित कराई जाएगी । साथ ही दूसरी पारी की परीक्षा 1 जुलाई से 15 जुलाई के बीच आयोजित की जाएगी । जिसमें छात्र अपनी इच्छा के अनुसार दोनों में से किसी भी एक परीक्षा में शामिल हो सकते हैं । 


दो बार परीक्षा लेने का सरकार का क्या उद्देश्य साथ ही कितने स्टूडेंट शामिल होंगे इस वर्ष  


मध्य प्रदेश शिक्षा मंडल का कहना है कि कोरोना के संक्रमण को देखते हुए परीक्षा दो टुकड़ियों में कराई जा रही है जिसमें छात्र अपनी इच्छा के अनुसार दोनों में से किसी भी परीक्षा में शामिल हो सकते हैं । शिक्षा मंडल द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार इस वर्ष 18 लाख छात्रों ने आवेदन किया है । जिसमें दसवीं के लगभग 10.50 लाख और 12वीं के लगभग 7.50 छात्रों ने नामांकन किया है जो इस वर्ष की परीक्षा में शामिल होने वाले हैं ।


फेल विद्यार्थियों के लिए भी रखा गया है एक सुनहरा अवसर


शिक्षा मंत्रालय ने फेल विद्यार्थियों के लिए  सप्लीमेंट्री परीक्षा को रद्द कर दिया गया है इसके अलावा छात्र 3 माह बाद दोबारा से परीक्षा में शामिल हो सकते हैं जिससे छात्रों को यह फायदा होगा कि उनकी जो मार्कशीट होगी उसमें सप्लीमेंट्री लिखा हुआ नहीं आएगा साथ ही स्टूडेंट को दोबारा परीक्षा देने का मौका मिल जाएगा । एवं शिक्षा मंत्रालय द्वारा ऑफिशियल वेबसाइट पर एग्जाम पैटर्न के बारे में डिटेल जारी की गई है जिसमें स्टूडेंट जाकर परीक्षा से संबंधित जानकारी ले सकते हैं । साथ ही  परीक्षा में अब 10वीं और 12वीं के छात्रों से 100 अंक के प्रश्न पूछे जाएंगे जिसमें अब प्रैक्टिकल नहीं रहेगा ।


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ