यातायात पुलिस ने जन जागरूकता के उद्देश्य से निकाली रैली, लोगों को हेलमेट का उपयोग करने के लिए दिया गया संदेश

 



मंदसौर यातायात सुरक्षा माह में प्रतिदिन यातायात पुलिस द्वारा प्रतिदिन यातायात नियमों के प्रति जागरूकता के कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं। इसी कार्यक्रम के चलते यातायात पुलिस ने शहर में हेलमेट जागरूकता रैली निकाली जिसमें सभी यातायात पुलिस बाइक पर सवार होकर हेलमेट लगाकर पूरे शहर में घूमने निकले। रैली के दौरान वाहन चालकों को हेलमेट का महत्व भी बताया और खेलने का फायदा भी बताया। यातायात पुलिस ने लोगों को सड़कों पर बाइक चलाते समय हमेशा हेलमेट लगाने की समझाइश दी।


सुविचार द्वारा भी दी जा रही है समझाइए


यातायात पुलिस लोगों को कुछ स्लोगन द्वारा भी समझाइश दे रहे हैं। पुलिस जवानों ने हेलमेट रैली के माध्यम से संदेश दिया कि हेलमेट लगाइए, किसी से किसी भी तरह की दुर्घटनाओं में जान की सुरक्षा भी होगी और यातायात नियमों का पालन भी हो सकेगा। यातायात सुरक्षा माह के अंतर्गत शुक्रवार को हेलमेट जागरूकता के लिए वाहन रैली में शामिल पुलिस जवानों ने हेलमेट का उपयोग करने की अपील की।


पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ चौधरी ने हरी झंडी दिखाकर रैली को किया प्रारंभ


रैली को पुलिस अधीक्षक कार्यालय से शुरू किया गया जहां पर पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ चौधरी ने हरी झंडी दिखाकर रैली को रवाना किया। रैली श्री कॉल्ड, महाराणा प्रताप बस स्टैंड से होकर बीपीएल चौराहे होते हुए गांधी चौराहे पर समाप्त हुई।दिल्ली के प्रारंभ अवसर पर पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ चौधरी ने हेलमेट लगाने का महत्व बताते हुए कहा कि दुर्घटनाओं में मृत्यु दर में हेलमेट पहने पर ही कमी लाई जा सकती है। हेलमेट रेलवे में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक डॉ अमित वर्मा, कमांडेंट होमगार्ड खींची, समाजसेवी राजाराम तंवर, अजीज उल्ला खान, यातायत थाना स्टाफ एवं सिविल डिफेंस कार्यकर्ता शामिल थे।

उल्लेखनीय है कि सड़कों पर होने वाली किसी भी तरह की दुर्घटनाओं में हेलमेट जान बचाने के लिए बहुत उपयोगी है। यातायात थाना प्रभारी शैलेंद्र सिंह चौहान ने बताया कि दुर्घटनाओं में होने वाली मौतों में सबसे ज्यादा मौत हेलमेट नहीं होने के कारण हुई है। हेलमेट होने से हमारा सिर पूरी तरह से सुरक्षित रहता है। यह सर्वे रिपोर्ट में सामने आया है।

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां