मंदसौर पंचायत सचिव संगठनों द्वारा सातवें वेतन की मांग को लेकर रैली निकालकर सीईओ ऋषभ गुप्ता को दिया ज्ञापन।

कल पंचायत सचिव संगठनों द्वारा 10 सूत्री मांगों को लेकर जनपद पंचायत से एक रैली निकालकर जिला पंचायत सीईओ ऋषभ गुप्ता को दिया ज्ञापन ।











सातवें वेतन की मांग को लेकर मध्य प्रदेश पंचायत सचिव संगठन के दिनेश शर्मा के नेतृत्व में दिया ज्ञापन मंदसौर पंचायत सचिव संगठनों द्वारा कल सातवें वेतन की मांग को लेकर एक रैली निकालकर प्रदर्शन किया गया और कहा कि आगामी बजट में पंचायत सचिव के सेवाकाल की गणना नियुक्ति दिनांक से शुद्ध छठवां वेतन मान निर्धारण से बढ़ने वाले आर्थिक भार में एरिया नहीं लेने कि शर्त पर 2021 से शुद्ध गणना कर सातवां वेतन दीया जाने एवं विभाग में सम्मिलित किए जाने मांगों को लेकर आज जिला पंचायत सीईओ ऋषभ गुप्ता को ज्ञापन दिया गया है और कई विषयों पर अपनी 10 सूत्री मांगों को लेकर चर्चा की गई है । 
मंदसौर ही नहीं पूरे मध्यप्रदेश में मांगों को लेकर प्रदर्शन किया गया और ज्ञापन दिया गया ।

आइए जानते हैं पंचायती सचिव संगठनों की मुख्य मांगे क्या है ।


ब्लॉक अध्यक्ष पवन सिंह आंजना ने कहा कि हमारी मांगे और प्रदेश की मांगे भी है जिसमें हमारे छठे वेतनमान पूर्ण गणना एवं सातवां वेतनमान साथ ही सचिवों का आमेलन यह हमारी प्रदेश स्तर की मांगे हैं और हमारी स्थली मांगों में 8 महीने से जो हमारे मनरेगा के बिलों का पेमेंट बाकी है व इसी वित्तीय वर्ष में हमारे सचिवों को हमारे जिला पंचायत में पेसिया करवाई जा रही है वह बंद करवाने के लिए एवं विद्युत बिलों को लेकर हमारी पंचायतों के ऊपर दबाव बनाया जा रहा है इसी के संगठन में आज हमने जिला स्तरीय द्वारा आज सीएमओ साहब को ज्ञापन दिया है जो हमारी मुख्य मांगी थी ।

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां

Popular Posts

किसानों के कर्ज में माफ होंगे सहकारी बैंक से लिए गए 550 करोड़ रुपए की ब्याज राशि ,शिवराज कैबिनेट ने मंगलवार के दिन लिया गया हम फैसला ।
#मंदसौर: लापता राहुल पाटीदार की लाश मिली, पूरे इलाके में फैल गई सनसनी, पुलिस मामले की जांच में लगी हुई है, पढ़े खबर
देश का पहला CNG से चलने वाला ट्रैक्टर हुआ लॉन्च  किसानों की लगभग 2 लाख रुपए तक की बचत करेगा प्रत्येक वर्ष , सीएनजी से चलने वाले ट्रैक्टर कि क्या है खासियत ।
 अगर आप गुप्ता चौराहे पर कचौरी-समोसा खाने जा रहे हैं तो हो जाए सावधान, आपका वाहन अस्त-व्यस्त खड़ा मिला तो कट जाएगा चालान
उत्तराखंड में फिर से तबाही: ग्लेशियर फटने से नदी किनारे वाले सभी घर बहे, कई लोग पानी के साथ बह गए, कुछ लोगों की गई जान