पशुपतिनाथ मेला परिसर की जगह बनाई गई अवैध झोपड़ियों को हटाया गया । चोरी होने के पश्चात मंदिर परिषद द्वारा की गई कार्रवाई ।




विश्व विख्यात मंदसौर पशुपतिनाथ मंदिर में प्रति वर्ष  कार्तिक मास की पूनम को मेले का आयोजन किया जाता है लेकिन इस वर्ष कोरोना के चलते मेले का आयोजन नहीं किया गया जिससे मेला  परिसर की जगह पर दूर गांव से आए लोगों ने अपनी अवैध झोपड़ीया बना दी । और वहां वह कई समय से रहने लग गए।  

कुछ दिनों पहले पशुपतिनाथ मंदिर के समीप संस्कृत पाठशाला के समीप कुछ बनी गुमटियों के ताले तोड़ने की सूचनाएं थी । ओर वहां से चोरी हो गई थी । जिसके बाद पशुपतिनाथ मंदिर की कैमरे मैं झोपड़ियों से आते जाते हुए लोग कैमरे में दिखाई दे रहे थे । तत्पश्चात मंदिर परिसर द्वारा कार्रवाई करते हुए वहां से झोपड़ियों को हटा दिया गया । 



स्थानीय पार्षद पति ने इसका विरोध करते हुए कहा कि मंदिर परिषद को केवल गरीबों की झोपड़िया दिख रही है उनके पास मेला ग्राउंड पर सट्टा चल रहा है वह उनको नहीं दिख रहा है । वहां पर लोग खुलेआम गुल्ली डंडा खेल रहे हैं , सरेआम मंदिर में युवकों द्वारा महिला को पीटा जाता है उसमें मंदिर की सुरक्षा गार्ड द्वारा कुछ नहीं किया गया और गरीबों की झोपड़ी हटाई जा रही है । 


मंदिर परिषद का कहना है कि कुछ दिनों पहले दुकानदारों की दुकान में से चोरी हो गई थी वह कैमरे में साफ दिखाई दे रहा था कि कुछ लोग झोपड़ीयो  में से निकल कर आए हैं और उनके द्वारा मेला परिषद की जमीन पर अतिक्रमण किया जा रहा था । जिसके बाद तहसीलदार को इस बात से अवगत कराया गया और उनके द्वारा निर्देशित करने के पश्चात यहां से अतिक्रमण हटाए गए हैं ।





टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां

Popular Posts

डोराना जुलूस में विवाद: बांदाखेड़ी फंटे पर दो युवकों पर चलाई एयर गन, लाठी से पिटाई भी की और बाइक भी जला दी
बिना डीजल के चलने वाला इलेक्ट्रॉनिक ट्रैक्टर किया लॉन्च ,नई टेक्नोलॉजी के साथ देश का पहला इलेक्ट्रॉनिक ट्रैक्टर को किसान दिवस के मौके पर सोनालिका कंपनी ने किसानों को दिया तोहफा ।
मंदसौर में 400 से अधिक पक्षियों की मौत के बाद विभाग ने  किया अलर्ट जारी, पशुपालन विभाग पूरे जिले को आठ भागों में बांट कर रखेगा बर्ड फ्लू पर नजर
उज्जैन के बाद अब इंदौर में भी हुआ राम मंदिर निर्माण के लिए चंदा एकत्रित करने वाले लोगों पर हुआ हमला कई लोग घायल हुए।
पंचायत की कुछ व्यवस्थाओं से ग्राम गोगरपुरा के निवासी हैं काफी नाखुश, जानिए ग्रामीणों को किन चीजों में दिक्कत आ रही है