खूब आने लगी है नई वैरायटी की सब्जियां, चाइनीस व्यंजनों में बढ़ती खपत, बोकली और जींस फलों की कीमतें हुई

 


मंडियों में अभी के दिनों में नई वैरायटी की सब्जियों की भरपूर आवक हो रही है। चाइनीस व्यंजनों की इंदौर शहर में बढ़ती खपत के कारण इन सब्जियों की मांग भी बढ़ गई है। इंदौर सब्जी कल्याण एसोसिएशन के उपाध्यक्ष फारुख राइन का कहना है कि मंडी में लोकल तरफ से ही नई वैरायटी की सब्जियां आ रही है। महेश्वर, रतलाम और नर्मदा बेल्ट तरफ फार्म हाउस मे विकसित की गई इन सब्जियों की नई नई वैरायटी मंडियों में आ रही है।


गुजरात से आने वाली सब्जी की भी बढ़ रही है मांग


गुजरात से आने वाली सब्जी फरागबीन जो 40 से ₹45 किलो तक बिक रही है। वैसे इन सब्जियों की खपत हर बार-ब्याह में अधिक होती है। लेकिन अभी शहर में चाइनीस व्यंजनों की मांग बढ़ती जाने के कारण इन सब्जियों में ज्यादा उठाव आ रहा है। इस बार देशी सब्जियों की भरपूर आवक हो रही है जिसके कारण कीमतों में बढ़ोतरी नहीं हो रही है। बोकली और जींस जैसे फलों की कीमत के साथ साथ की मांग भी बढ़ती जा रही है।


शहर में किस सब्जी की कितनी कीमत है


बाजार में दम आलू 10 से 20, फूलगोभी 10 से 15, गराडू 30 से ₹40 , अरबी 25 से 30, चुकंदर 25 से 30, ककड़ी 20 से ₹30 किलो तक बिक रही है। अचानक मौसम बदलने का असर भी सब्जियों पर देखने को मिल सकता है। खासकर धनिया और बटले की फसल प्रभावित हो सकती है।प्याज खेरची में 40 से 45, आलू 20 से 25 रुपए किलो बिक रहा है। मंडी में टमाटर की प्रतिदिन 20 से 25 गाड़ी की आवक हो रही है।


शादी-ब्याह मैं बढ़ सकते हैं दाम


खेरची विक्रेता लखन प्रजापति का कहना है कि फरवरी माह में शादियों के कार्यक्रम होने से नई वैरायटी की सब्जियों में मांग बढ़ सकती है। बाजार में केरी आना शुरू हो गई है जिसकी कीमत 80 से सो रुपए किलो तक बिक रही है।

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां

Popular Posts

#मंदसौर: लापता राहुल पाटीदार की लाश मिली, पूरे इलाके में फैल गई सनसनी, पुलिस मामले की जांच में लगी हुई है, पढ़े खबर
किसानों के कर्ज में माफ होंगे सहकारी बैंक से लिए गए 550 करोड़ रुपए की ब्याज राशि ,शिवराज कैबिनेट ने मंगलवार के दिन लिया गया हम फैसला ।
देश का पहला CNG से चलने वाला ट्रैक्टर हुआ लॉन्च  किसानों की लगभग 2 लाख रुपए तक की बचत करेगा प्रत्येक वर्ष , सीएनजी से चलने वाले ट्रैक्टर कि क्या है खासियत ।
 अगर आप गुप्ता चौराहे पर कचौरी-समोसा खाने जा रहे हैं तो हो जाए सावधान, आपका वाहन अस्त-व्यस्त खड़ा मिला तो कट जाएगा चालान
उत्तराखंड में फिर से तबाही: ग्लेशियर फटने से नदी किनारे वाले सभी घर बहे, कई लोग पानी के साथ बह गए, कुछ लोगों की गई जान