मंदसौर में 400 से अधिक पक्षियों की मौत के बाद विभाग ने किया अलर्ट जारी, पशुपालन विभाग पूरे जिले को आठ भागों में बांट कर रखेगा बर्ड फ्लू पर नजर

 


मंदसौर में पक्षियों की  बर्ड लू की आशंका के बाद अब हर और अलर्ट जारी किया है । कलेक्टर ने स्वास्थ्य विभाग के अमले को निर्देश  दिए हैं ।कि इस मामले पर सीधे नजर रखी जाए ।पशुपालन विभाग ने जिले को आठ भागों में विभाजित किया है। इसमें प्रत्येक भाग में एक चिकित्सा सहायक शल्य, एक सहायक पशु चिकित्सा क्षेत्र अधिकारी को नियंत्रण के लिए नियुक्त किया है।


क्षेत्र के पोल्ट्री फार्म, मुर्गा एवं पंडा विक्रय केंद्रों पर निगरानी रखी  जा रही है



प्रत्येक भाग को 10 -10 उप भागों में विभाजित किया है। इसके प्रभारी सहायक पशु चिकित्सा क्षेत्र अधिकारी है। नगरीय क्षेत्र में नगर पंचायत के सहयोग से एवं ग्रामीण में ग्राम पंचायत के सहयोग से पोल्ट्री फार्म , मूर्गा एवं अंडा विक्रय केंद्रों का  निरीक्षण करने एवं  निगरानी रखने के निर्देश दिए हैं।    


शव निष्पादन की रखें बेहतर व्यवस्था

क्षेत्र में किसी भी प्राकृतिक घटना से पक्षियों की मौत होने पर सब निष्पादन की कार्यवाही तत्काल नगर पालिका, नगर पंचायत अथवा ग्राम पंचायत के सहयोग से  प्रोटोकॉल अनुसार कार्यवाही की  जा रही है ।स्वास्थ्य स्वास्थ्य विभाग के द्वारा दल गठित कर परिवार के  सर्वेक्षण किए जा रहे हैं।


दलोदा ,  सीतामऊ और  मल्हारगढ़ में भी कार्यवाही जारी


पशुपालन विभाग द्वारा मंदसौर सीतामऊ के पोल्ट्री फॉर्म का औचक निरीक्षण किया गया ।वही मंदसौर ,दलोदा व मल्हारगढ़ के चिकन शॉप का भी निरीक्षण किया गया। सभी विकास खंडों के पोल्ट्री फॉर्म से सैंपल लिए गए।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Popular Posts

मध्यप्रदेश न्यूज़: गुराडिया देदा में हुई रहस्यमय मौत, 2 फिट पानी के टैंक में गिरकर हुई उत्तरप्रदेश के 19 साल के युवक की मौत
मध्यप्रदेश न्यूज़: मंदसौर में एक साथ तीन लड़कियां तालाब में डूबी, मरने वाली में दो सगी बहनों और एक अन्य लड़की शामिल है
मध्यप्रदेश न्यूज़: बलि देने तलवार निकाली, सामने बैठे व्यक्ति को लगी; मौत, मन्नत पूरी होने पर आगर मालवा से आया था परिवार
मध्यप्रदेश न्यूज़: मंदसौर में गैस सिलेंडर हुआ ब्लास्ट, पूरा घर जलकर हुआ राख, 1 लाख 20 हजार रुपए की नकदी भी जली
मध्यप्रदेश न्यूज़: मंदसौर में साइंस की छात्रा ने की आत्महत्या, Physics में सप्लीमेंट्री आने के बाद छात्रा डिप्रेशन में थी