प्यार के मामले में पति की हत्या पत्नी के प्रेमी ने मार डाला अपने ही पति को , वारदात के तीन आरोपी को पुलिस ने पकड़ा ।

 खबर रतलाम जिले की है जहां पर प्रेमि के चक्कर में उसने उसके ही पति को मरवा  डाला । 



   र।  


 रतलाम औद्योगिक क्षेत्र थाने  के चीलवानिया रोड पर मुकेश पिता प्रभु लाल निरामा को 14 दिसंबर के दिन अवैध बदमाशों ने हत्या कर दी थी जिला चिकित्सालय में हुए पीएम के मुताबिक उसकी सिर में गोली लगने से मौत हुई है । हत्या का मामला सामने आने के बाद पुलिस ने जांच पड़ताल शुरू कर दी । 

जांच के अनुसार मुकेश की पत्नी सुरता बाई के प्रेमी अशोक कसेरा निवासी सैलाना द्वारा ढाई लाख में सुपारी देकर मुकेश की हत्या की गई हत्या करने वाले दोनों आरोपी लाला उर्फ ललित खान पिता शहजाद खान निवासी कुशलगढ़ दूसरा दिनेश पिता शंकरलाल निवासी कुशलगढ़ थाना पिपलोदा के खिलाफ पुलिस ने f.r.i. दर्ज कर ली है । और तीनों को गिरफ्तार कर लिया गया है ।


पुलिस एसपी गौरव तिवारी ने मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि


14 दिसंबर के दिन थाना प्रभारी को सूचना मिली कि चिलवानिया रोड पर एक व्यक्ति की लाश पड़ी हुई है सूचना देने वालों ने कहा कि उसकी गिरने से सिर में चोट आने से मौत हो गई है थाना प्रभारी द्वारा उन्हें जिला चिकित्सालय ले जाया गया जिसके बाद मामले की जांच की गई तो पोस्टमार्टम कि रिपोर्ट के बाद पता चला कि मुकेश निरामा की मृत्यु सिर में गोली लगने की वजह से हुई है ।

उसके पश्चात अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ धारा 302 आईपीसी के तहत मामला दर्ज किया गया है । पुलिस की जांच के बाद सामने आया कि मृतक की पत्नी सुरता बाई जिसका पूर्व से ही सैलाना निवासी एक व्यक्ति के साथ प्रेम चलता आ रहा है अशोक पिता कालू लाल कसेरा कुमावत निवासी सैलाना का रहने वाला है । जिसका एक माह पूर्व उसके पति के साथ वाद विवाद हुआ था । जिसके बाद से ही उसके प्रेमी ने उसे मारने की योजना बनाई । जिसके बाद लाला और दिनेश को उसने ढाई लाख की फिरौती देकर उसकी हत्या करवा दी । 

पुलिस ने तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है उनमें से आरोपी लाला पहले भी हत्या के जूर्म में 2014 में दोषी पाया गया है । जिसके बाद से वह जमानत से बाहर आया हुआ है । वहीं अशोक के ऊपर भी मारपीट के मामले में पहले भी केस दर्ज हुआ है । जिसमें तीनों आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है जिनसे पूछताछ की जा रही है एवं उनसे वाहन एवं हत्या करने की सामग्री जप्त की जा रही है ।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ