अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के निधि संग्रहण के लिए निकल रही राम रैली पर दुसरे समुदाय के लोगों ने किया पथराव

 



अयोध्या में भव्य राम मंदिर निर्माण के लिए दान राशि एकत्रित की जा रही है जिसको लेकर देशभर में इसके लिए अभियान चलाया जा रहा है। कल पूरे प्रदेश भर में हिंदू संगठनों द्वारा वाहन रैली का आयोजन किया गया जहां अलग-अलग जगहों पर भव्य रैली निकाली गई है। 

लेकिन कल उज्जैन में वाहन रैली निकालते समय कुछ दूसरे समुदाय के लोगों ने रैली पर पथराव करना शुरू कर दिया जिससे कि कई गाड़ियों के कांच टूट गए । दोनों पक्षों में तनाव फैलने के बाद पूरे क्षेत्र में पुलिस बल तैनात किया गया है । 


पुलिस ने बताया कि अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर निधि संग्रहण किया जा रहा है जिसको लेकर शुक्रवार के दिन रैली का आयोजन किया गया । जहां टावर टूक से महाकाल मंदिर के समीप स्थित भारत माता मंदिर तक दो पहिया वाहन रैली निकाली जा रही थी । जहां पर वह रैली लगभग शाम 6:00 बजे  बेगम बाग क्षेत्र से गुजर रही थी इसी दौरान नारेबाजी शुरू हो गई हो दूसरे समुदाय के संगठनों ने रैली पर पथराव करना शुरू कर दिया । जिससे वाहन रैली कि कई गाड़ियों को नुकसान पहुंचा है एवं वहां खड़े वाहनों पर भी नुकसान हुआ है पथराव के दौरान 3 लोगों को चोट लगी है । 

उज्जैन एसपी एवं कलेक्टर घटनास्थल पर मौके पर पहुंचे । उसके बाद भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है ।


एसपी सत्येंद्र कुमार शुक्ला ने कहा कि वाहन रैली पर पथराव होने के बाद दोनों पक्षों में माहौल तनावपूर्ण हो गया जिससे की पुलिस ने मौके पर पहुंचकर दोनों पक्षों को शांत कराया है ।  एसपी ने कहा कि कुछ गैर जिम्मेदार लोग अशांति फैलाने का कार्य कर रहे हैं । झगड़ा होने वाले दोनों पक्षों को शांत करा लिया गया है पथराव करने वाले लोगों की जांच की जा रही है ।  साथ ही उन्होंने कहा कि अभी माहौल शांत है और कहां की किसी भी प्रकार की कोई अफवाह ना फैलाएं नहीं तो उन पर कार्रवाई की जाएगी।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Popular Posts

चुन्नु लाला पहुंचा मंदसौर: उदयपुर पुलिस गैंगस्टर को लेकर पहुंची मंदसौर, कोर्ट ने दिया 6 दिन का रिमांड, उदयपुर और मंदसौर पुलिस की कड़ी सुरक्षा में पेशी
मानसून लाने के लिए लोग अपनाने हैं अजीब प्रथाएं, अविवाहित स्त्री को नग्न करके खेत जोताया जाता है, जानिए लोगों की यह प्रथाएं वाकई में काम करती हैं,कब और क्यो शुरू हुई यह प्रथाएं
राहत की किरण: मंदसौर में सामूहिक दुष्कर्म के 5 आरोपियों को मौत तक कैद की सजा, नाबालिग छात्रा को खेत में ले जाकर किया था दुष्कर्म
एक और गड़बड़ी: सिर्फ 6 माह 13 दिन में धंसा 28 करोड़ के शामगढ़ ओवरब्रिज का एप्रोच रोड, रास्ता हुआ बंद, सेतु विकास के इंजीनियर और निगरानी कंपनी की देखरेख में बना ब्रिज
मंदसौर: शहर के मुक्तिधाम में राख और अस्थियों के साथ हो रही छेड़छाड़, कुछ असामाजिक तत्वों ने शमशान को बना दिया है शराब का अड्डा