कोरोना का नया स्ट्रेन जांचने की देश में केवल एक लैब, ब्रिटेन के सुपर स्प्रेडर वायरस से आप रहें सावधान

 


पहले ही विश्व कोरोना के पहले रूप से सामना करते करते थक चुका है और अब कोरोना का नया स्ट्रेन नए लोगों के मन में भय पैदा कर दिया है। ब्रिटेन में पाए गए कोरोना के नए स्ट्रेन से बचाव को लेकर पूरे देश में बहस हो रही है। पिछले 1 महीने में ब्रिटेन से लगभग 6000 लोग भारत आए हैं जिनमें कई लोग संक्रमित प्राप्त हुए हैं और उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। ब्रिटेन से लौटने वालों में केरल में आठ, कर्नाटक में 14, राजस्थान में चार, मध्यप्रदेश में दो और छत्तीसगढ़ में चार ओडिशा में एक मरीज पॉजिटिव आया है।


देश में एकमात्र कोरोना का नया स्ट्रेन जाने वाली लैब

देश में अभी सबसे बड़ा सवाल यह उठ रहा है कि ब्रिटेन में जो नए कोरोना की खोज हुई है उसका हमारे देश में जांचने के लिए सारी जिम्मेदारी सिर्फ एक मात्र लैब के भरोसे हैं। जिसका नाम नेशनल इंस्टीट्यूट आफ वायरोलॉजी, पुणे में स्थित है। ब्रिटेन से आए मरीजों के सैंपल वहां पर पहुंचा दिए गए हैं जिससे अनुवांशिक अनुक्रमण से नए स्ट्रेन का पता चल जाएगा।


नए स्ट्रेन पर टीका कारगर

दिल्ली एम्स के निदेशक रणदीप गुलेरिया ने कहा कि कोरोना के नए स्ट्रेन को लेकर बेवजह चिंता नहीं करें। कोरोनावायरस कई बार म्यूटेट हो चुका है, औसतन हर माह में दो बार। वर्तमान जानकारी के अनुसार ट्रायल फेज की वैक्सीन जिन्हें आपात मंजूरी मिलनी है वह नए कोरोना पर भी असरदार रहेगी।


देश में आए सुपर स्प्रेडर स्ट्रेन

जिनोमिक्स और इंटीग्रेटिव बायोलॉजी के निदेशक अनुराग अग्रवाल का दावा है कि मार्च से मई के बीच देश के भीतर कई सुपर स्प्रेडर स्ट्रेन आए और खुद ही समाप्त हो गए। उन्होंने कहा है कि वायरस खुद से म्यूटेट हो रहा है और ऐसा होना वायरस का तरीका है। इसलिए आप चिंता नहीं करें।

ब्रिटेन से आए कई यात्रियों के सैंपल पॉजिटिव

ब्रिटेन से राजस्थान में कुल 821 यात्री लौटे हैं जिनमें से चार की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। मध्यप्रदेश में 497 यात्री आए हैं जिनमें से दो की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है छत्तीसगढ़ में 102 यात्री लौटे हैं जिसमें से चार की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। पिछले 24 घंटे में 22273 कोरोना मरीज मिले हैं। दक्षिण अफ्रीका में कोविड-19 के दो नए वेरिएंट सामने आए हैं जिसमें अफ्रीका के स्वास्थ्य अधिकारियों का कहना है कि उसके यहां पाया गया वेरिएंट ब्रिटेन में पाए गए वेरिएंट से बिल्कुल अलग है।

यूके से इंदौर आए एक और व्यक्ति की रिपोर्ट पॉजिटिव

स्वास्थ्य विभाग पिछले 2 दिनों से लगातार सेंपलिंग कर रहा है। दूसरे दिन यूं कैसे आए एक व्यक्ति में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हुई है। विभाग ने 125 यात्रियों के सैंपल जांचने के लिए भेजे थे जिसमें से एक व्यक्ति की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है जो राऊ का रहने वाला है। यह व्यक्ति 6 दिसंबर को लंदन से इंदौर आया था। फिलहाल तो उसे होम आइसोलेशन में रखा गया है।

आप अपना ख्याल स्वयं रखें वरना एक छोटी सी लापरवाही भी आपकी जिंदगी छीन सकती है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Popular Posts

चुन्नु लाला पहुंचा मंदसौर: उदयपुर पुलिस गैंगस्टर को लेकर पहुंची मंदसौर, कोर्ट ने दिया 6 दिन का रिमांड, उदयपुर और मंदसौर पुलिस की कड़ी सुरक्षा में पेशी
राहत की किरण: मंदसौर में सामूहिक दुष्कर्म के 5 आरोपियों को मौत तक कैद की सजा, नाबालिग छात्रा को खेत में ले जाकर किया था दुष्कर्म
एक और गड़बड़ी: सिर्फ 6 माह 13 दिन में धंसा 28 करोड़ के शामगढ़ ओवरब्रिज का एप्रोच रोड, रास्ता हुआ बंद, सेतु विकास के इंजीनियर और निगरानी कंपनी की देखरेख में बना ब्रिज
मंदसौर: पिपल्या मंडी थाना क्षेत्र में जहरीली शराब पीने से तीन लोगों की मौत, किराने की दुकान पर बेची जा रही थी जहरीली शराब, मौके पर पहुंचा प्रशासन
मंदसौर: शहर के मुक्तिधाम में राख और अस्थियों के साथ हो रही छेड़छाड़, कुछ असामाजिक तत्वों ने शमशान को बना दिया है शराब का अड्डा