#बोतलगंज:5हजार रुपए उधार नहीं लौटाने पर कर दी हत्या, 2 नाबालिग समेत 3 गिरफ्तार

 


गांव बोतल गंज में 10 दिन पहले सिर्फ ₹5000 उधार नहीं देने से एक व्यक्ति को जान से मार कर कुएं में फेंक दिया था। हत्या कर शव को कुएं में डालने के मामले में पुलिस ने दो नाबालिग समेत 3 लोगों को गिरफ्तार किया है। हत्या का कारण पूछा गया तो पैसे उधार वापस नहीं करने का मामला सामने आया है। 10 दिसंबर को पिपलिया मंडी थाने पर बोतल गंज निवासी अनवर नियारगर ने रिपोर्ट दर्ज करवाई थी कि उनका 19 वर्ष का बेटा शोएब नहीं मिल रहा है।

हत्या कर शव को कुएं में फेंक दिया गया

12 दिसंबर को शोएब की लाश एमपीईबी ग्रिड के पीछे से सुल्तान भाई के कुएं में से प्राप्त हुई। जो शव पुलिस को कुएं में से मिला वह शोएब ही था जिसकी आरोपियों ने हत्या कर कुएं में फेंक दिया था। शरीर पर चोट के निशान होने के कारण पुलिस ने धारा 302 में हत्या का मामला दर्ज किया है। टी आई शिव कुमार यादव ने बताया कि हमने पूछताछ के लिए दो नाबालिग लड़कों को पकड़ा है।

नाबालिगों ने किया अपराध कबूल

पुलिस द्वारा नाबालिगों से सख्ती से पूछताछ करने पर हत्या का अपराध कबूल कर लिया। आरोपियों ने बताया कि 10 दिसंबर की रात को 8:30 बजे बाइक (एमपी 14 एम जेड 5515) पर शोएब को बैठा कर ले गए और रास्ते में ही चाकू से उसकी गर्दन पर वार किया और नीचे गिरा दिया उसके बाद उसकी चाकू घोप कर हत्या कर दी और उसके दो मोबाइल और ₹4000 नकदी लेकर शव को कुएं में फेंक दिया और वहां से भाग निकले।

सहयोग करने वाला भी हिरासत में

टीआई शिव कुमार यादव ने बताया कि पूछताछ के दौरान यह भी पता चला कि हत्या करने के बाद दोनों नाबालिग आरोपी बाइक से मुल्तानपुरा निवासी फिरोज देवासिया के घर पहुंचे थे। यहां पर उन्होंने अपने कपड़ों पर लगे खून साफ किए और बाइक को धोकर होटल के पास छिपा दी। टीआई ने बताया कि सहयोग करने वाले आरोपी फिरोज को भी हिरासत में ले लिया गया है। चाकू और भाई को भी बरामद कर लिया गया है और अब आरोपियों को न्यायालय में पेश किया जाएगा।


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Popular Posts

चुन्नु लाला पहुंचा मंदसौर: उदयपुर पुलिस गैंगस्टर को लेकर पहुंची मंदसौर, कोर्ट ने दिया 6 दिन का रिमांड, उदयपुर और मंदसौर पुलिस की कड़ी सुरक्षा में पेशी
मानसून लाने के लिए लोग अपनाने हैं अजीब प्रथाएं, अविवाहित स्त्री को नग्न करके खेत जोताया जाता है, जानिए लोगों की यह प्रथाएं वाकई में काम करती हैं,कब और क्यो शुरू हुई यह प्रथाएं
राहत की किरण: मंदसौर में सामूहिक दुष्कर्म के 5 आरोपियों को मौत तक कैद की सजा, नाबालिग छात्रा को खेत में ले जाकर किया था दुष्कर्म
एक और गड़बड़ी: सिर्फ 6 माह 13 दिन में धंसा 28 करोड़ के शामगढ़ ओवरब्रिज का एप्रोच रोड, रास्ता हुआ बंद, सेतु विकास के इंजीनियर और निगरानी कंपनी की देखरेख में बना ब्रिज
मंदसौर: शहर के मुक्तिधाम में राख और अस्थियों के साथ हो रही छेड़छाड़, कुछ असामाजिक तत्वों ने शमशान को बना दिया है शराब का अड्डा