Love JIHAD crime: युवती से शादी करने के लिए रफीक बन गया था रवि, किया गया प्रकरण दर्ज

 


भोपाल के कोलार के एक मंदिर में एक युवती से शादी करने की कोशिश करने वाले एक युवक को पुलिस ने धोखाधड़ी का केस लगा कर गिरफ्तार किया है। आरोपी ने एक लड़की से शादी करने के लिए अपना नाम समेत सभी जानकारी बदल दी। आरोपी  लड़की से शादी करने के लिए रफीक से रवि बन गया। आरोपी ने उसके लिए फर्जी आधार कार्ड भी बनवा लिया था। 

आश्चर्यचकित कर देगी इनकी कहानी

पुलिस के अनुसार औबेदुल्लागंज इलाके में एक युवती जिसकी उम्र 23 वर्ष थी वहां पर रहती थी। वह युवती 4 साल पहले बीमार थी और उसे चलने फिरने में परेशानी होती थी। उस समय एक व्यक्ति जो होशंगाबाद में रहता था और उसकी आयु 23 वर्ष थी। वह व्यक्ति उस युवती की पैरों पर मालिश करने आया करता था उसने उस समय उसका नाम रवि यादव बताया था।

1 साल पहले ही युवती को घर वालों ने फोन दिया था

जानकारी से पता चला है कि करीब 1 साल पहले ही युवती के घरवालों ने उसको फोन दिया था, जिससे उसने रवि को ढूंढ लिया और उससे बातें करने लग गई थी। इस दौरान रवि ने अपने प्यार का इजहार करते युवती से शादी करने की बात कही जिस पर वह तैयार हो गई। अपने परिचय के लिए रवि ने अपना आधार कार्ड को दिया था और बाद में परिवार वाले भी शादी के लिए तैयार हो गए। रविवार को एक मंदिर में शादी होने का तय हुआ लेकिन शादी से पहले एक हिंदू संगठन को रफीक की असलियत की पता चल गई और उन्होंने तुरंत पुलिस को इसकी सूचना दे दी। उसके बाद पुलिस समय पर पहुंची और उस व्यक्ति को पकड़कर थाने ले गई।

आरोपी ने कबूल किया अपना गुनाह

पुलिस की पूछताछ में आरोपी ने कबूल कर लिया कि उसका असली नाम मोहम्मद रफीक है। सोमवार को युवती ने कोलार पुलिस स्टेशन में जाकर रवि के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई, जिस पर पुलिस ने धोखाधड़ी का केस दर्ज कर लिया है। केस की फाइल औबेदुल्लागंज भेजी जा रही है , जहां पर और आगे की कार्यवाही की जाएगी। एक और आश्चर्य कर देने वाली बात भी सामने आई है कि आरोपी ने शादी से पहले उसके परिवार वालों को उसका असली नाम बता दिया था।


आरोपी ने अपना आधार कार्ड भी बदल दिया था उसके बारे में आरोपी से पूरी पूछताछ की जा रही है कि उसने फर्जी आधार कार्ड क्यों बनवाया और कहां से बनवाया। कोलार पुलिस में केस दर्ज कर डायरी को औबेदुल्लागंज भेजा है।


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Popular Posts