कोरोना काल में अमेरिका से आई खुशखबरी, 12 दिसंबर से मिलने लगेगी कोरोना वैक्सीन

Corona vaccine in America

कोरोना की पहली लहर के बाद फिर से पूरे विश्व में दूसरी लहर भी आ चुकी है यानी कोरोना खत्म होने की कगार पर आकर फिर से अपने पैर पसारने लगा है। दुनिया के सभी देश इसकी वैक्सीन ढूंढने में लगे हैं लेकिन कोरोना को लगभग 1 वर्ष हो चुका है लेकिन आज तक ऐसी कोई वैक्सीन सामने नहीं आई है जो कोरोना की बीमारी को जड़ से मिटा सके हालांकि वैज्ञानिक प्रयास तो कर रहे हैं।


अमेरिका से आ चुकी है खुशखबरी

इसी बीच जब किसी भी देश को वैक्सीन नहीं मिल रही थी लेकिन अब अमेरिका से खुशखबरी आ रही है कि अमेरिका 12 दिसंबर तक कोरोना की वैक्सीन दुनिया के सामने लाकर रख देगा व अमेरिका में 12 दिसंबर को ही कोरोना का पहला टीका लगेगा।

अमेरिका के वाइट हाउस के मुताबिक दिसंबर में टीकाकरण हो सकता है अमेरिकी दवा कंपनी फाइजर ने जर्मनी की बायोएनटेक कंपनी के साथ मिलकर यह वैक्सीन बनाई है जो 12 दिसंबर को लांच होगी।


ब्रिटेन इस सप्ताह मैं ही ला सकता है वैक्सीन

वहीं ब्रिटेन से खबर आ रही है कि इसी फाइजर कंपनी की वैक्सीन ब्रिटेन इसी सप्ताह में लांच कर सकता है। यह भी बहुत अच्छी खुशखबरी होगी। ब्रिटेन का स्वास्थ्य विभाग इस वैक्सीन को जनता के लिए उपलब्ध करा सकता है।

यू एस के एस डी ए ने कोविड-19 सिंह के लिए आपातकालीन उपयोग प्राधिकरण के लिए फाइजर के अनुरोध पर चर्चा करके इस पर 10 दिसंबर तक मुहैया कराने की बात कही है।एफडीए का कहना है कि पहला टीकाकरण 12 दिसंबर को हो सकता है।

जो वैक्सीन अभी कोरोना के लिए बनाई गई है उसने परीक्षा में कोरोना से लड़ने में 95% प्रभाव दिखाया है। सरकार के आर्डर के बाद टीके की लाखों की संख्या में खुराक वर्ष के अंत से पहले उपलब्ध कराई जा सकती हैं।


किसके लिए सबसे पहले वैक्सीन उपलब्ध होगी

 जो वैक्सीन वर्ष के अंत में आएगी वह सबसे पहले स्वास्थ्य कर्मियों, नर्सिंग होम के सबसे कमजोर लोगों बुजुर्गों के लिए सबसे पहले उपलब्ध करवाई जाएगी।क्योंकि इन्हीं को सबसे पहले इसकी जरूरत होगी।

 अमेरिकी कोरोनावायरस वैक्सीन के प्रमुख डॉ मोन्सेप सलोई ने बताया कि हमारी योजना 24 घंटों के भीतर पहुंचाने की होगी और 10 से 12 दिसंबर तक वैक्सीन का टीकाकरण कार्यक्रम सभी क्षेत्रों में चल सकता है मुझे उम्मीद है हम इस में सफल होंगे।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ