कोरोना वैक्सीन आने से पहले मंदसौर में रखने के लिए कलेक्टर मनोज पुष्प द्वारा किया गया बंद पड़े गनेडी़वाल अस्पताल का निरीक्षण।




सरकार द्वारा कोरोना वैक्सीन आने से पहले उसके स्टोरेज के लिए पूरी तैयारियां शुरू हो गई है ताकि वैक्सीन आने के बाद उसे रखने के लिए कोई दिक्कत ना हो । मंदसौर में आज कलेक्टर मनोज पुष्प द्वारा बंद पड़े गनेड़ीवाल अस्पताल का निरीक्षण किया गया की वैक्सीन आने के बाद उसे कहां रखा जाए , वह स्थान साफ हो जिसकी उचित व्यवस्था की गई है ।


आइए जानते हैं मंदसौर कलेक्टर मनोज पुष्प ने क्या कहा 


पहले उन्होंने नगर पालिका का निरीक्षण किया तो वहां पर बिना मार्क्स के घूम रहे लोगों को रोका और उनसे पूछा कि मास्क लगाएं रखने को कहां है और उन्हें सलाह दी गई कि बिना मास्क के शहर में ना घूमने अगर सामने वाले को कोरोना हो रहा होगा तो आपको भी कोरोना हो सकता है । इसीलिए सावधानी बरतने को कहा है ।

कोरोना वेक्सिन आने से पहले हमने गनेड़ीवाल अस्पताल में जो एक्टिविटी चल रही थी उसे बंद कराया एवं कोरोना वैक्सीन के स्टोरेज के लिए खाली कराया गया है । कोरोना वैक्सीन को लेकर जो भी व्यवस्थाए होगी वह इसी परिसर से की जाएगी जिसको लेकर स्टोरेज के लिए सारी व्यवस्था कर ली गई है जो उपकरण   जरूरी है उन सभी को एकत्रित कर लिया गया है । जैसे ही वैक्सीन आएगी हम उसको पहले यही स्टोर करेंगे फिर यहां से सभी स्थानों पर पहुंचाई जाएगी । 

साथ ही उन्होंने कहा कि पहले वैक्सीन जिन लोगों को लगाई जाएगी उनकी लिस्ट बना ली गई है । एवं सर्वप्रथम यह वैक्सीन हेल्थ वर्कर को लगाई जाएगी । एवं जो लिस्ट भारत सरकार द्वारा बनाने को कही गई थी वह बना ली गई है एवं आगे भेज दी गई है।

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां

Popular Posts

डोराना जुलूस में विवाद: बांदाखेड़ी फंटे पर दो युवकों पर चलाई एयर गन, लाठी से पिटाई भी की और बाइक भी जला दी
बिना डीजल के चलने वाला इलेक्ट्रॉनिक ट्रैक्टर किया लॉन्च ,नई टेक्नोलॉजी के साथ देश का पहला इलेक्ट्रॉनिक ट्रैक्टर को किसान दिवस के मौके पर सोनालिका कंपनी ने किसानों को दिया तोहफा ।
मंदसौर में 400 से अधिक पक्षियों की मौत के बाद विभाग ने  किया अलर्ट जारी, पशुपालन विभाग पूरे जिले को आठ भागों में बांट कर रखेगा बर्ड फ्लू पर नजर
उज्जैन के बाद अब इंदौर में भी हुआ राम मंदिर निर्माण के लिए चंदा एकत्रित करने वाले लोगों पर हुआ हमला कई लोग घायल हुए।
पंचायत की कुछ व्यवस्थाओं से ग्राम गोगरपुरा के निवासी हैं काफी नाखुश, जानिए ग्रामीणों को किन चीजों में दिक्कत आ रही है