मंदसौर में मनाया गया विश्व एचआईवी एड्स दिवस कहां 2030 तक विश्व हो एचआईवी मुक्त ।

विश्व एचआईवी एड्स दिवस

विश्व एड्स दिवस पर प्रति वर्ष अनुसार इस वर्ष भी इसके जागरूकता के लिए अभियान चलाया गया और लोगों को इसके बारे में समझाया गया । ओर कैसे सावधानी बरती जाए एवं भयानक बीमारी से कैसे बचें । एड्स जागरूकता के अंतर्गत ईश्वर वैश्विक एकजुटता अभियान के तहत इसको मनाया गया और सभी मिलकर इस भयानक बीमारी से निपटे ।


इस अभियान के तहत सभी मिलकर विश्व में इस भयानक बीमारी को 2030 तक खत्म करने का प्रयास करें हो सावधानी बरतें। मंदसौर विधायक यशपाल सिंह ने इस रैली में हिस्सा लिया और कहां की स्वास्थ्य विभाग ऐसी कई चुनौतियों को लेकर सतर्क है और इससे निपटने का प्रयास कर रहे हैं  एवं कई ऐसी बीमारियां है जिसको लेकर स्वास्थ्य विभाग में नई उपलब्धियां पाई है  , इस वायरस से निपटने के लिए समाज के हर वर्ग को इससे जुडना पड़ेगा और जागरूक होना पड़ेगा । 


मंदसौर कलेक्टर मनोज पुष्प ने इस रैली में हिस्सा लिया और कहा कि कोरोनावायरस/ एचआईवी दोनों को साथ मिलकर लड़ना है एवं इनके बचाव के तरीके अपना का इससे बचा जा सकता है । यह जागरूकता रैली मंदसौर के जिला चिकित्सालय परिसर से गांधी चौराहा होते हुए, बस स्टैंड, पहुंची और फीस भारत माता चौराहा होते हुए दया मंदिर रोड पर से निकलकर जिला प्रशिक्षण केंद्र पहुंची ।


जिला जेल में भी इस जागरूकता अभियान को कैदियों को बताया गया


जिला चिकित्सालय द्वारा जिले के जेल में कैदियों को एड्स के प्रति जागरूकता लाने के लिए जेल में स्वास्थ्य जागरूकता शिविर लगाया गया और उन्हें समझाया गया कि इससे जागरूकता ही इसका एक उपाय इससे कि हमें इस बीमारी को लेकर जागरूक रहना है ।

जिला डॉ कमलेश कुमार ने बताया कि एचआईवी वायरस असुरक्षित यौन संबंध, संक्रमित मां से गर्भ में शिशु को एवं एचआईवी सीरीज का दूसरों द्वारा प्रयोग करने एवं बिना जांच किए संक्रमित व्यक्ति का रक्त चढ़ाने से भी यह बीमारी हो सकती है ।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ