शंकर स्टोर व सादड़ी वाला से भगवान के चित्र लगे पटाखे जप्त, दिवाली से पहले प्रशासन सख्त।

दिवाली की तैयारी

 शासन के द्वारा व पंचायत प्रतिवर्ष दिवाली के पूर्व अभियान चलाता है जिसमें चाइना में निर्मित पटाखे, भगवान के चित्र लगे पटाखे आदि उपकरण को कई व्यापारी विक्रय करते हैं। जिसको लेकर अभियान चलाया जाता है परंतु इस बार प्रशासन इस बार पहले से ही सक्रिय हो गया है। इस बार राज्य शासन ने पहले से ही कमर कस ली राज्य के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान व गृहमंत्री ने सभी अधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दिए हैं कि किसी भी व्यापारी द्वारा चाइना और भगवान के चित्र लगे पटाखे विक्रय नहीं किया जाए। साथ ही जिस व्यापारी के वहां इस प्रकार के पटाखे मिले उस पर सख्त कार्रवाई की जाए। यह बात हर वर्ष होती है और हर व्यापारी को बता दी जाती है लेकिन हर वर्ष इतना ध्यान नहीं दिया जाता जितना इस साल प्रशासन ने दिया है। प्रशासन द्वारा भगवान के चित्र वाले पटाखे नहीं बेचने की सूचना देने के बावजूद भी कई व्यापारी पटाखे बेच रहे थे तभी पुलिस द्वारा तहसीलदार और एक पुलिस की टीम तैयार की गई जिसमें शहर के बड़े बड़े होलसेल व्यापारियों के वहां चेकिंग की जिसमें मेन का पटाखा बाजार, सादड़ी वाला, और शंकर स्टोर शामिल है यहां पर भगवान के चित्र वाले पटाखे बेचे जा रहे और चेतावनी भी दे दी है। और सभी व्यापारियों को निर्देश दे दिए गए हैं कि अगर अबकी बार भगवान से लगे चित्र वाले पटाखे और चाइना में बने पटाखे बेचे तो प्रशासन द्वारा सख्त कार्रवाई की जाएगी।

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां

Popular Posts

#मंदसौर: लापता राहुल पाटीदार की लाश मिली, पूरे इलाके में फैल गई सनसनी, पुलिस मामले की जांच में लगी हुई है, पढ़े खबर
देश का पहला CNG से चलने वाला ट्रैक्टर हुआ लॉन्च  किसानों की लगभग 2 लाख रुपए तक की बचत करेगा प्रत्येक वर्ष , सीएनजी से चलने वाले ट्रैक्टर कि क्या है खासियत ।
उत्तराखंड में फिर से तबाही: ग्लेशियर फटने से नदी किनारे वाले सभी घर बहे, कई लोग पानी के साथ बह गए, कुछ लोगों की गई जान
खराब मौसम से अफीम फसल खराब, फसल को नष्ट नहीं करें ताकि पोस्ता ले सके सभी किसान
मंदसौर पशुपतिनाथ मंदिर में 16 फरवरी ( बसंत पंचमी) के दिन लगने जा रहा है विश्व का सबसे बड़ा घंटा । आइए जानते हैं इस घंटे की क्या है विशेषताएं ।