मुंबई पुलिस ने रिपब्लिक मीडिया के एडिटर - इन - चीफ अर्नब गोस्वामी को किया गिरफ्तार।

मुंबई पुलिस ने रिपब्लिक मीडिया के एडिटर - इन - चीफ अर्नब गोस्वामी को किया गिरफ्तार।

 


आज सुबह रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क के एडिटर इन चीफ अर्नब गोस्वामी को मुंबई पुलिस  ने 2 साल पुराने इंटीरियर डिजाइनर और उसकी मां की आत्महत्या के आरोप में  गिरफ्तार किया है ।  यह केस 2018 में बंद कर दिया गया था । जब अर्नब गोस्वामी मीडिया के सामने आए तो उन्होंने कहां की मुंबई पुलिस ने मुझसे वसूली का व्यवहार किया मुझे घर पर दवाइयां तक नहीं खाने दिए यहां तक की उन्होंने मेरे बेटे को भी मारा और मुझे भी मारा है अर्नब के वकील ने कहा कि उन्हें बेल्ट से मारा गया है उन्होंने मीडिया के सामने हाथ पर चोट के निशान दिखाए वह डॉक्टर को भी दिखाया उन्होंने कहा कि पुलिस ने मुझे घर में घेर लिया और मेरी गर्दन पकड़ी और मुझे जूते तक नहीं पहनने दिए ।

    अर्नब गोस्वामी के गिरफ्तारी के विरोध में बीजेपी ने कड़ी निंदा की और इसे आपातकालीन स्थिति बताएं और देश के कई जगहों पर धरना प्रदर्शन भी किया महाराष्ट्र में करणी सेना की तरफ से भी उन्हें 24 घंटे के भीतर रिहा करने की मांग की गई  अर्नब गोस्वामी के वकील का कहना है कि पुलिस अचानक उनके घर पहुंच गई और उस दौरान घर में उपस्थित सदस्यों से धक्का-मुक्की करने लगी और उन्हें 3 घंटे तक कमरे में बंद कर दिया और उन्होंने कहा कि परिवार के एक सदस्य कि चोट लगने के कारण उनके हाथ में पट्टी बांधी गई है जिसे पुलिस द्वारा निकाल दिया गया है और उनके  घर की लाइव फोटो रिपब्लिक मीडिया ने अपने न्यूज़ चैनल में दिखाया है कि कैसे मुंबई पुलिस उनके साथ वसूली का व्यवहार कर रही ।

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां