सोसायटियों में ओवरड्यू किसानों को भी अब से देना होगा यूरिया

 यूरिया खाद न्यूज़

जिले में अभी रवि फसल के सीजन के लिए पर्याप्त यूरिया मौजूद है किंतु उसके बाद भी ओवरड्यू  किसानों को सरकारी खाद समिति यूरिया उपलब्ध नहीं करा रही है किसानों को उनकी खेती के अनुसार किस्तों में यूरिया दे रही है जिससे उनका समय और पैसा दोनों खराब हो रहा है जबकि किसानों को यूरिया पहले ही उपलब्ध करा देना चाहिए जब गोदाम में यूरिया की कोई कमी नहीं है


किसानों के हित में उनकी परेशानियों को ध्यान में रखते हुए विधायक डॉ राजेश पांडे और रतलाम के ग्रामीण विधायक दिलीप मकवाना ने कृषि मंत्री कमल जी पटेल से चर्चा की की इस समस्या को जल्दी सुलझाया जाए कृषि मंत्री पटेल साहब ने कलेक्टर गोपाल चंद डैड को निर्देश देते हुए कहा कि सरकारी सोसाइटी को आदेश करने के निर्देश दिए सरकारी सोसाइटी में जो किसान पंजीकृत है उनको यूरिया उपलब्ध करवानी चाहिए और डिफाल्टर किसानों को अधिक दामों पर निजी रूप से खाद की दुकानों से यूरिया खरीदना पडता था


हालांकि इस बार सभी किसानों को पर्याप्त यूरिया मिल पाएगा क्योंकि सरकार ने पहले से ही इसकी व्यवस्था करी है और इसी हिसाब से अपने गोदामों में पर्याप्त यूरिया का स्टार्ट किया है पहले एक या दो बोरी किसान यूरिया ले जा सकता था किंतु अब किसान जितना चाहे उतना यूरिया सरकारी गोदाम से ले जा सकता है यदि कोई किसान डिफाल्टर हो गया है तो वह भी नगद राशि देकर सोसाइटी से सूर्या खरीद पाएगा इसमें सोसाइटी की पाबंदी रहेगी ।


टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां

Popular Posts

#मंदसौर: लापता राहुल पाटीदार की लाश मिली, पूरे इलाके में फैल गई सनसनी, पुलिस मामले की जांच में लगी हुई है, पढ़े खबर
देश का पहला CNG से चलने वाला ट्रैक्टर हुआ लॉन्च  किसानों की लगभग 2 लाख रुपए तक की बचत करेगा प्रत्येक वर्ष , सीएनजी से चलने वाले ट्रैक्टर कि क्या है खासियत ।
उत्तराखंड में फिर से तबाही: ग्लेशियर फटने से नदी किनारे वाले सभी घर बहे, कई लोग पानी के साथ बह गए, कुछ लोगों की गई जान
खराब मौसम से अफीम फसल खराब, फसल को नष्ट नहीं करें ताकि पोस्ता ले सके सभी किसान
मंदसौर पशुपतिनाथ मंदिर में 16 फरवरी ( बसंत पंचमी) के दिन लगने जा रहा है विश्व का सबसे बड़ा घंटा । आइए जानते हैं इस घंटे की क्या है विशेषताएं ।