मप्र के जावरा से गिरफ्तार हुआ नकली नोट के मामले में फरार चल रहा मुख्य आरोपी

 22 पैसे के A-4 साइज पेपर पर 500 रु. के 4 नोट छापते थे

 अंबामाता थाना क्षेत्र के सज्जनगढ़ गेट के पास स्थित पराठा सेंटर संचालक से 17 नवंबर को मिले 6 लाख रुपए नकली नोट के मामले में फरार मुख्य आरोपी कोटड़ा निवासी वसीम पुत्र गुलाम अहमद अब्बास को पुलिस ने शुक्रवार को मध्यप्रदेश जावरा से गिरफ्तार कर लिया। अभियुक्त ने कोटड़ा स्थिति साथी ई-मित्र संचालक अमित पुत्र गट्टू लाल के साथ नकली नोट बनाना कबूला है। इस पर अमित की तलाश में पुलिस टीमें मध्यप्रदेश भेजी है। जांच अधिकारी रामसुमेर ने बताया कि अभियुक्त नकली नोट बनाने में कलर प्रिंटर का उपयोग करते थे। 

 

 कैसे बनाते थे नकली नोट

पहले 500 रुपए का नोट लेते और दोनों तरफ से स्कैन कर लेते।फिर एक पेज पर दोनों साइड का कलर प्रिंटर निकालते, इसमें चार नोट छपे होते। नोट का कलर प्रिंटर आने के बाद प्रिंटर के एक साइड की फोटो कॉपी एक पेज पर और दूसरे साइड की फोटो कॉपी दूसरे पेज पर करते। फिर दोनों को गोंद से चिपकाकर 500 का नकली नोट तैयार करते। इस प्रकार 22 पैसे के दो ए-4 साइज के पेपर से 2000 रुपए तैयार कर लेते थे। इस प्रकार से वहां लोगों को उल्लू बनाते थे।


कृपया ऐसे लोगों से सतर्क रहें और पैसों को सही से देख कर ही अपने पास रखें।

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां

Popular Posts

डोराना जुलूस में विवाद: बांदाखेड़ी फंटे पर दो युवकों पर चलाई एयर गन, लाठी से पिटाई भी की और बाइक भी जला दी
बिना डीजल के चलने वाला इलेक्ट्रॉनिक ट्रैक्टर किया लॉन्च ,नई टेक्नोलॉजी के साथ देश का पहला इलेक्ट्रॉनिक ट्रैक्टर को किसान दिवस के मौके पर सोनालिका कंपनी ने किसानों को दिया तोहफा ।
मंदसौर में 400 से अधिक पक्षियों की मौत के बाद विभाग ने  किया अलर्ट जारी, पशुपालन विभाग पूरे जिले को आठ भागों में बांट कर रखेगा बर्ड फ्लू पर नजर
उज्जैन के बाद अब इंदौर में भी हुआ राम मंदिर निर्माण के लिए चंदा एकत्रित करने वाले लोगों पर हुआ हमला कई लोग घायल हुए।
पंचायत की कुछ व्यवस्थाओं से ग्राम गोगरपुरा के निवासी हैं काफी नाखुश, जानिए ग्रामीणों को किन चीजों में दिक्कत आ रही है