मप्र के जावरा से गिरफ्तार हुआ नकली नोट के मामले में फरार चल रहा मुख्य आरोपी

 22 पैसे के A-4 साइज पेपर पर 500 रु. के 4 नोट छापते थे

 अंबामाता थाना क्षेत्र के सज्जनगढ़ गेट के पास स्थित पराठा सेंटर संचालक से 17 नवंबर को मिले 6 लाख रुपए नकली नोट के मामले में फरार मुख्य आरोपी कोटड़ा निवासी वसीम पुत्र गुलाम अहमद अब्बास को पुलिस ने शुक्रवार को मध्यप्रदेश जावरा से गिरफ्तार कर लिया। अभियुक्त ने कोटड़ा स्थिति साथी ई-मित्र संचालक अमित पुत्र गट्टू लाल के साथ नकली नोट बनाना कबूला है। इस पर अमित की तलाश में पुलिस टीमें मध्यप्रदेश भेजी है। जांच अधिकारी रामसुमेर ने बताया कि अभियुक्त नकली नोट बनाने में कलर प्रिंटर का उपयोग करते थे। 

 

 कैसे बनाते थे नकली नोट

पहले 500 रुपए का नोट लेते और दोनों तरफ से स्कैन कर लेते।फिर एक पेज पर दोनों साइड का कलर प्रिंटर निकालते, इसमें चार नोट छपे होते। नोट का कलर प्रिंटर आने के बाद प्रिंटर के एक साइड की फोटो कॉपी एक पेज पर और दूसरे साइड की फोटो कॉपी दूसरे पेज पर करते। फिर दोनों को गोंद से चिपकाकर 500 का नकली नोट तैयार करते। इस प्रकार 22 पैसे के दो ए-4 साइज के पेपर से 2000 रुपए तैयार कर लेते थे। इस प्रकार से वहां लोगों को उल्लू बनाते थे।


कृपया ऐसे लोगों से सतर्क रहें और पैसों को सही से देख कर ही अपने पास रखें।

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां

Popular Posts

मन्दसौर:अफीम किसानों के लिए बहुत ही बुरी खबर, अफीम की खेती निजी कंपनियों के हाथ में जा रही है।
मल्हारगढ़ 1.5 क्विंटल डोडाचूरा के साथ 1 आरोपी गिरफ्तार, एक दंपत्ति के घर पुलिस ने दी दबिश
5 साल बाद तक बनकर तैयार हुआ सीतामऊ फाटक और ओवरब्रिज, आज से शुरू होगा। 3 किलोमीटर का चक्कर बचेगा, लगभग 80हजार लोगों को मिल सकेगी राहत‌।
मंदसौर के तालाब में डूबे ग्यारहवीं के 3 छात्र,होली खेलने के बाद तालाब मे तीन दोस्त नहाने के लिए गए थे, दो के शव मिले ,जबकि एक को बचा लिया गया।
मंदसौर: फिलहाल मध्यप्रदेश में नहीं होगा टोटल लॉकडाउन,सीएम शिवराज सिंह का बड़ा ऐलान