रतलाम पुलिस के खिलाफ हाथों में तख्तिया लेकर निकली महिलाएं एवं बच्चे एसपी को सौंपा ज्ञापन

रतलाम के कल्याण नगर निवासी को मारपीट करने वाली तीन पुलिसकर्मियों के खिलाफ कारवाई करने के लिए मालवीय समाज आज तक सड़कों पर उतरा सागर माली उम्र 21 वर्ष माणक चौक पर पदस्थ तीन पुलिसकर्मियों द्वारा मारपीट कर छोड़ दिया गया जिसके बाद हताश परेशान सागर माली मैं अपने ही घर पर आत्महत्या कर ली जिसके पास माली समाज मैं आक्रोश देखने को मिला रतलाम सीएसपी ने तीनों पुलिस जवानों को निलंबित कर दिया था  पूर्ण माली समाज द्वारा माणक चौक पर तीनों पुलिसकर्मियों के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज करने के लिए पुराने कलेक्टर को ज्ञापन आ गया 


माली समाज के प्रतिनिधि से चर्चा

सागर पिता अमृता माली को न्याय दिलाने के लिए संपूर्ण माली समाज आज यहां एकत्रित हुआ है और प्रशासन को ज्ञापन दिया है हमारी इसमें दो मुख्य मांगे हैं पहली मान गया है कि जो पुलिस के अत्याचार से जिस युवक की मृत्यु हुई है युवक को उचित मुआवजा दिया जाए उसका परिवार चल सके 

दूसरी मांग यह है कि जो तीन पुलिसकर्मी उस युवक पर आधी रात को इतनी बर्बरता करी थी एक युवक की मृत्यु हुई है उन तीनों पुलिसकर्मियों के खिलाफ एफ आई आर दर्ज करी जाए क्योंकि अभी तक पुलिस प्रशासन ने उन तीनों के खिलाफ कोई भी एफ आई आर दर्ज नहीं करी है

और हम पिछले 3 दिनों से ज्ञापन दे रहे हैं किंतु हमारी अभी तक मांगे सुनी नहीं जा रही है इसलिए अब हम ज्ञापन नहीं देंगे हम अब आंदोलन करेंगे मैं माली समाज को प्रतिनिधित करते हुए यह कह रहा हूं कि मैं ना बीजेपी से हूं ना कांग्रेस से किंतु यदि हमारी मांगे नहीं सुनी गई तो माली समाज के मतदाताओं की संख्या 50 लाख से अधिक है हम सभी चुनाव का विरोध यदि हमारी  मांगे नहीं सुनी गई।

यदि विजयदशमी के बाद हमारी मांगे नहीं हुई तो भोपाल में विधानसभा का घेराव करेंगे यह सारा कार्य करते समय हम भारत की संविधान का ध्यान रखेंगे और ना ही कोई ऐसी घटना करेंगे जिससे भारत के कानून का उल्लंघन हो 

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां