मंदसौर के गांधी चौराहे पर सरकारी शिक्षक बैठा धरने पर नहीं हुई सुनवाई


एक अकेला शिक्षक बैठा धरने पर बेईमान लोगों के विरोध में गांधी गिरी का तरीका अपनाते हुए धरने पर बैठा शांतिपूर्ण अकेले धरने पर देखे शिक्षक कमल सिंह तोमर आम जनता से कर रहे हैं न्याय की मांग सीएम हेल्पलाइन पर भी की कंप्लेंट हर रविवार को देते हैं गांधी चौराहे पर धरना या शिक्षक भालोट के रहने वाले हैं जो अकेले ही धरने पर बैठकर शांतिपूर्ण रूप से अपनी नाराजगी जता रहे हैं राज्य शासन से नियम के विरुद्ध की गई पदोन्नति अधिकारियों के कर्तव्य के प्रति लापरवाही का विरोध कर रहे हैं हाई सेकेंडरी स्कूल भालोट के शिक्षक कमल सिंह तोमर उनका कहना है कि संजय गोयल नामक शिक्षक को नियम के विरुद्ध पदोन्नति दी गई है और उन्हें संचालक बना दिया गया है उनके साथ के सभी शिक्षक प्राचार्य ही बन पाए हैं संयुक्त सचिव स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा यह पद उन्हें नियम के विरुद्ध दिया गया है  जिस पर शासन द्वारा कोई भी कार्रवाई नहीं हुई इसी को लेकर उन्होंने इसकी शिकायत सीएम हेल्पलाइन नंबर पर भी करी  जो कि कहीं समय नहीं करी गई थी किंतु वहां से भी कोई जवाब अभी तक नहीं आया इसीलिए आज अधिकारियों के कार्य की लापरवाही के चलते उन्होंने धरने पर बैठकर इसका विरोध किया और अकेले धरने पर बेठ शिक्षक संजय गोयल पर कार्रवाई की मांग कर रहे हैं कांग्रेसका एक नेता भी इनका समर्थन करते हुए कह रहा था कि इन्हें प्रताड़ित किया जा रहा है और एक इमानदार शिक्षक को इस तरह परेशान करना सही नहीं है इस बात को लेकर सभी जनप्रतिनिधियों को ध्यान देना चाहिए शिक्षक ने विधायक यशपाल सिंह सिसोदिया को भी इस ओर ध्यान देने के लिए कहा था किंतु समय निकालकर शिक्षक रोज रविवार को धरना दे रहे हैं अभी तक खाना की कमल सिंह तोमर से कोई मिलने क्या उनका सहयोग करने नहीं पहुंचा है 


शिक्षक से चर्चा

मेरा नाम कमल सिंह तोमर है मैं यहां पर न्याय की मांग के लिए अकेला बैठ शांतिपूर्ण धरना दे रहा हूं क्योंकि अधिकारियों द्वारा मेरी बात नहीं सुनी जा रही मैं एक भ्रष्ट शिक्षक संजय गोयल के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रहा हूं उन्हें नियमों का उल्लंघन करते हुए पदोन्नति दी गई है जो कि उचित नहीं है मैं यहां पिछले तीन संडे से लगातार आ रहा हूं पर किंतु मेरी अभी तक किसी ने नहीं सुनी ना ही किसी ने कार्रवाई की मैं चाहता हूं कि इस पर कार्रवाई हो क्या एक भ्रष्ट शिक्षक के खिलाफ कार्रवाई नहीं होनी चाहिए मैंने कई बार सीएम हेल्पलाइन नंबर पर भी कंप्लेन करी किंतु वहां से भी कोई जवाब नहीं आता इसलिए मुझे मजबूरन धरने पर बैठना पड़ा और मैं चाहता हूं कि आप सब लोग मेरा सपोर्ट करें जिससे मुझे न्याय मिल सके और ऐसे भ्रष्ट शिक्षक पर कार्रवाई हो सके

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां