मंदसौर के नगर पालिका अध्यक्ष फिल्मी स्टाइल में कर रहे हैं निरीक्षण 12 लोगों को किया नोटिस जारी

मंदसौर के नगर पालिका अध्यक्ष का नगर पालिका निरीक्षण 12 लोगों को किया नोटिस जारी

मंदसौर के नगर पालिका अध्यक्ष राम कोटवानी द्वारा किया गया नगरपालिका का निरीक्षण 12 नगरपालिका कर्मचारी हुए नदागद  जारी किए गए नोटिस नगर पालिका अध्यक्ष राम कोटवानी जी नायक फिल्म में जिस प्रकार 1 दिन के लिए मुख्यमंत्री पद को प्राप्त कर अनिल कपूर ने दो लगा लगा कर जो परीक्षण किए थे उसी प्रकार राम कोटवाली से भी मंदसौर नगर पालिका में जोरो शोरो से निरीक्षण कर रहे हैं और लापरवाह कर्मचारियों की तुरंत अनुपस्थिति लगा रहे हैं जिससे कि नगरपालिका के कर्मचारियों में अब अनुपस्थिति को लेकर दर बढ़ने लगा है इसी काम के चलते 12 कर्मचारियों को नोटिस भी दिए गए हैं और साथ ही यह निरीक्षण चलता जा रहा है और साथ ही जिनकी अनुपस्थिति लगाई जा रही है उनकी तनखा भी काटी जा रही है इससे पूर्व भी 3 दिन पहले नगर पालिका अध्यक्ष द्वारा निरीक्षण किया गया था जिसके दौरान 30 कर्मचारियों को नोटिस दिए गए थे और राम कोटवानी के ऐसे निरीक्षण में कर्मचारी भी लापरवाह स्थिति में पाए जा रहे हैं उनका कहना है कि जनता की सेवा के लिए नगर पालिका के कर्मचारियों को बिठाया गया है और यदि वह काम नहीं करेंगे तो जनता को बहुत परेशानी होती है उन्हें कई सारी दिक्कतो का सामना करना पड़ता है इसलिए नगर पालिका अध्यक्ष राम कोटवानी जी का कहना है कि जनता को किसी प्रकार की कोई परेशानी नहीं होना चाहिए मैं ऐसे ही निरीक्षण करता रहूंगा और यदि कोई कर्मचारी अगर उसके काम पर नहीं मिला तो उस पर कार्रवाई होगी 


राम कोटवानी जी से चर्चा

नगर पालिका मंदसौर में मेरे द्वारा जनता की सेवा के लिए जो कर्मचारी कार्यरत है मैंने उनको पहले निर्देश दिए थे आप सभी को वक्त पर आना है इससे पूर्व ही मैंने निरीक्षण किया था जिसमें उन्हें यह संदेश दिया था साथ ही उनको एक सूचना पत्र भी जारी किया गया था किंतु आज फिर मेरे द्वारा अकाशमिक निरीक्षण किया गया जिसमें 12 कर्मचारी अनुपस्थित पाए गए उन सभी 12 कर्मचारियों के खिलाफ नोटिस जारी करने के आदेश दिए मेरा कहना यह है कि लोग अपने रोजमर्रा की समस्याओं को लेकर आते हैं लेकिन जब कर्मचारी अनुपस्थित मिलते हैं तो लोग भटकते हैं और इसकी वजह से उन्हें काफी परेशानी उठानी पड़ती है एक तो कोविड-19 जैसी खतरनाक सिचुएशन में आदमी घर से निकल कर आता है और जब यहां कर्मचारी अनुपस्थित मिलता है तो उन्हें काफी परेशानी होती है और मेरा मानना है कि नगर पालिका नगर के लोगों की सेहत होती है लोगों की सेवा करना उनका काम है और यह उन्हें करना चाहिए मैंने आज फिर से कहा है कि नगर के किसी भी व्यक्ति के काम में कोई लापरवाही बरतने पर मेरी तरफ से सख्त एक्शन दिए जाएंगे  मुझे किसी भी तरह का भ्रष्टाचार नहीं चाहिए मैं जनता की हक की लड़ाई लड़ रहा हूं और इस लड़ाई में मुझे कुछ नहीं चाहिए और मैं किसी को नहीं बकशुन्गा यदि वह भ्रष्टाचार कर रहा है या उसका साथ दे रहा है तो जय हिंद ।

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां