मंदसौर के सीतामऊफाटक का ओवरब्रिज बना शराबियों का अड्डा शराब पीकर बोतलों को फोड़ते हैं वहीं पर ।


मंदसौर की सीतामऊ फाटक ओवरब्रिज का काम लगभग 3 सालों से चल रहा है व्हाट्सएप रेलवे द्वारा परमिशन नहीं दी गई जब काम भी रुक गया था उसी ब्रिज को शराबियों ने शराबियों का अड्डा बना लिया है आते हैं बैठते हैं शराब पीकर शराब की खाली बोतलों को वहीं छोड़ देते हैं कहीं आने जाने वाले दूसरे लोगों को बोतलों के टुकड़ों से चोट भी लग जाती है कई सारे बच्चे अब वहां पर फोटो खींचा ने भी जाते हैं क्योंकि मंदसौर का यह ओवर ब्रिज से मंदसौर का काफी सुंदर नजारा दिखाई देता है और कई बार ऐसा हुआ है कि उन बच्चों को उन बच्चों को उन टूटी हुई बोतलों से चोटें भी लगी है और यह ब्रिज काफी ऊंचा है इसलिए प्रशासन को यहां पर थोड़ी सख्ती बरतनी चाहिए क्योंकि शराबी अगर यहां आते जाते हैं और अपना डेरा जमाए हुए हैं तो जाहिर सी बात है कि वह नशे में कभी भी यहां से नीचे भी गिर सकते हैं तकरीबन २० फुट से ज्यादा ऊंचा है तो यहां से गिरने पर मौत हो सकती है इसलिए प्रशासन को थोड़ा ध्यान देने की आवश्यकता है किसी दुर्घटना के होने से पहले दुर्घटना के कारण को नष्ट करना सबसे बेहतर माना जाता है ।

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां

Popular Posts

#मंदसौर: लापता राहुल पाटीदार की लाश मिली, पूरे इलाके में फैल गई सनसनी, पुलिस मामले की जांच में लगी हुई है, पढ़े खबर
देश का पहला CNG से चलने वाला ट्रैक्टर हुआ लॉन्च  किसानों की लगभग 2 लाख रुपए तक की बचत करेगा प्रत्येक वर्ष , सीएनजी से चलने वाले ट्रैक्टर कि क्या है खासियत ।
खराब मौसम से अफीम फसल खराब, फसल को नष्ट नहीं करें ताकि पोस्ता ले सके सभी किसान
उत्तराखंड में फिर से तबाही: ग्लेशियर फटने से नदी किनारे वाले सभी घर बहे, कई लोग पानी के साथ बह गए, कुछ लोगों की गई जान
मंदसौर पशुपतिनाथ मंदिर में 16 फरवरी ( बसंत पंचमी) के दिन लगने जा रहा है विश्व का सबसे बड़ा घंटा । आइए जानते हैं इस घंटे की क्या है विशेषताएं ।