"ऑपरेशन माफिया मुक्त मंदसौर " शुरू मंदसौर शहर समिति पूरे जिले में लगाए शिविर पुलिस द्वारा ।

पुलिस मैं माफिया को मिटाने का किया संकल्प 


मंदसौर में आज माफिया मुक्त अभियान शुरू कर दिया है मध्य प्रदेश प्रशासन के द्वारा सभी जिलों में माफिया मुक्त अभियान चलाने के आदेश मिले थे इस अभियान के अंतर्गत हर थाना हर चौकी पर शिविर लगाकर पुलिस द्वारा आम जनता से आवेदन लिया जाए यदि वह चाहता है कि उसकी कही हुई बात गोपनीय रखी जाए तो उस बात का भी प्रशासन को खास ख्याल रखना है अभी 3 दिन पूर्व विधायक यशपाल सिंह सिसोदिया द्वारा मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान चिट फंड के मामले से अवगत कराया और कहा था कि चिटफंड मामले में पुलिस अच्छी कार्रवाई कर रही है और प्रदेश प्रशासन के आदेश के बाद थाना स्तर पर आज माफिया मुक्त अभियान चलाया गया मंदसौर शहर के बीपीएल चौराहे पर नरेंद्र सोलंकी थाना प्रभारी शिव कुमार यादव ने शिविर लगाया तथा साथ ही शहर के ऑटो रिक्शा के माध्यम से शहर में एलान भी कराया गया कि जो लोग माफिया से परेशान है वह बिना किसी संकोच की शिकायत कर सकते हैं खबर यह है कि मंदसौर में कहीं ब्याज खोरो युवाओं और कई घरों को बर्बाद कर दिया है हिंदी आज करो का इतना आतंक है कि यह घर पर कब्जा कर लेते हैं और ब्याज यदि समय पर नहीं देते हैं तो उनके साथ मारपीट भी करते हैं इसी वजह से कुछ समय पहले एक युवक ने बड़ी पुल से कूदकर अपनी जान भी दे दी थी


आखिर क्यों नहीं करते लोग माफिया के खिलाफ कंप्लेंट

जो ब्याज खोर को ब्याज देते हैं वह पहले से ही अपने बचाव के साधन को साथ रखते हैं यदि कोई उनकी शिकायत करता है तो पुलिस में छुपे उनके हम साथी उन्हें पहले से ही खबर दे देते हैं कि उनकी नाम से कंप्लेन की गई है फिर वहां अपने तरीके से उनसे मारपीट करते हैं और कंप्लेन होती ही नहीं है सूचना तो यह है कि पुलिस के अंदर छुपे उन्हीं लोगों की वजह से माफिया फल फूल रहा है क्योंकि जब पीड़ित व्यक्ति कमरे में लेकर आता है तो वह पहले से ही उस व्यक्ति को डरा कर भगा देते हैं जिससे कि उचित अधिकारी जो पुलिस में ईमानदारी से अपनी ड्यूटी निभाते हैं उन तक बात ही नहीं जाती जिससे कि वह अपना काम नहीं कर पाते 


एक पीड़ित की शिकायत

मेरा नाम नंदकिशोर लोहार है मेरी शिकायत मेरे पापा की जमीन मेरे ही बड़े पापा ने दबा रखी है और पापा की डेथ के बाद ना वह हमें जमीन पर कुछ करने देते हैं ना हमें हमारी जमीन वापस होते हैं मैं चाहता हूं कि मेरी जमीन पर मेरा कब्जा हो जाए पुलिस की इस मुहिम को देखकर मेरे मन में आस जगी है और मैं यहां शिकायत लेकर आया हूं 


शिविर में बैठे पुलिस अधिकारियों से चर्चा

मध्य प्रदेश सरकार द्वारा जो यह अभियान चलाया गया है यह इसलिए भी जरूरी है कि थाना स्तर पर इतनी कंप्लेंट नहीं मिलती है  जिसकी वजह से हम उचित कार्रवाई नहीं कर पाते हैं इसीलिए हमने यहां शिविर लगाया है हम यहां पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ चौधरी और एडिशनल एसपी मनकामना प्रसाद के निर्देशन में यह अभियान चलाया जा रहा है सभी अलग-अलग स्थानों पर शिविर लगाए जाएंगे और वहां से प्राप्त कंप्लेंट को लेकर थाने जाकर उस पर कार्रवाई की जाएगी ।

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां