मंदसौर में 15 जून से फिर लगेगा लॉकडाउन इस अफवाह से बाजार में मची अफरा-तफरी ।

मंदसौर में फैल रही है फिर से लॉकडाउन होने की अफवाह

मंदसौर शहर में फैल रही फिर से लॉकडाउन लगने की अफवाह से बाजारों पर असर दिखा फिर से तंबाकू बीड़ी गुटखा के व्यापारी और लोग स्टॉक करने में जुट गए अफवाह में यह खबर है कि 15 जून से पुनः लॉकडाउन किया जाएगा जिसमें सभी वस्तुओं का मिलना मुश्किल होगा जिससे बीड़ी तंबाकू गुटखा जैसी वस्तुओं का मिलना मुश्किल होगा इसलिए लोग इनका स्टॉक करना प्रारंभ कर दिया है आज मंदसौर शहर में भी कई स्थानों पर ₹300 की गुटके का पैकेट ₹400 में बिका जिससे यह साफ पता चलता है कि अफवाह की वजह से लोग बीड़ी तंबाकू का स्टॉक करने में जुट गए हैं किंतु मंदसौर के विधायक यशपाल सिंह सिसोदिया ने इस बात को अफवाह बताया की 15 जून से संपूर्ण लॉकडाउन लगने वाला है उन्होंने कहा है कि यह सिर्फ एक अफवाह है जो लोगों द्वारा फैलाई जा रही है सभी लोगों से अपील है कि वह हिसाब हुआ के चलते बाजारों में अधिक सामान का स्टॉक करने के चक्कर में ना आए नियमित रूप से अपना सामान ले जाए और कम से कम बाजार में घूमने का प्रयास करें उनके द्वारा बताया गया कि राजस्थान की बॉर्डर को सिल जरूर किया गया है क्योंकि जून में इस बीमारी का खतरा अधिक है इसलिए हमें सतर्क रहना आवश्यक है किंतु इसका मतलब यह नहीं कि किसी भी अफवाह के चलते सामाजिक व्यवस्था को बिगाड़ना है उनका सभी से अनुरोध है कि इस अफवाह पर ध्यान ना दें और ऐसे ही स्ट्रोक के चक्कर में मंदसौर के चक्कर ना लगाएं और बीड़ी तंबाकू जैसे पदार्थों का स्टॉप करके रोजाना रूटिंग पर असर ना डालें।

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां

Popular Posts

#मंदसौर: लापता राहुल पाटीदार की लाश मिली, पूरे इलाके में फैल गई सनसनी, पुलिस मामले की जांच में लगी हुई है, पढ़े खबर
किसानों के कर्ज में माफ होंगे सहकारी बैंक से लिए गए 550 करोड़ रुपए की ब्याज राशि ,शिवराज कैबिनेट ने मंगलवार के दिन लिया गया हम फैसला ।
देश का पहला CNG से चलने वाला ट्रैक्टर हुआ लॉन्च  किसानों की लगभग 2 लाख रुपए तक की बचत करेगा प्रत्येक वर्ष , सीएनजी से चलने वाले ट्रैक्टर कि क्या है खासियत ।
 अगर आप गुप्ता चौराहे पर कचौरी-समोसा खाने जा रहे हैं तो हो जाए सावधान, आपका वाहन अस्त-व्यस्त खड़ा मिला तो कट जाएगा चालान
उत्तराखंड में फिर से तबाही: ग्लेशियर फटने से नदी किनारे वाले सभी घर बहे, कई लोग पानी के साथ बह गए, कुछ लोगों की गई जान